Thursday, March 21, 2019
Follow us on
Haryana

कैशलैस सुविधा के लिए सरल केन्द्र में पीओएस मशीन लगाई जाए - प्रदीप दहिया

June 07, 2018 05:13 PM
 अतिरिक्त उपायुक्त प्रदीप दहिया ने वीरवार को लघु सचिवालय में स्थापित सरल केन्द्र का अवलोकन किया तथा यहां पर आये हुए लोगों से रूबरू होकर उनके कार्यो के बारे में जानकारी ली। उनके साथ उपमण्डल अधिकारी ना. जितेन्द्र कुमार भी साथ थे।
अतिरिक्त उपायुक्त ने सरल केन्द्र में विभिन्न 11 काउंटरों पर जाकर जानकारी हासिल की। जिसमें काउंटर नम्बर एक पर सीएम विंडो, काउंटर नम्बर 2 पर हरसमय, काउंटर नम्बर 3 से 11 तक ड्राईविंग लाईसैंस, वाहन पंजीकरण व अन्य कार्य होते है। इसके अतिरिक्त इस केन्द्र में एक हैल्प डैस्क काउंटर भी बनाया गया है जिसमें टोकन नम्बर अॅलाट किया जाता है तथा फाईलें भी दी जाती है। इसके अलावा दो केबिन है जिसमें ड्राईविंग लाईसैंस व वाहन पंजीकरण प्रिन्ट निकलवाने व लर्निंग लाईसैंस के टैस्ट का कार्य भी किया जा रहा है। 
अतिरिक्त उपायुक्त ने सरल केन्द्र में पीओएस मशीन लगाने के निर्देश दिये ताकि लोग कैशलैस की सुविधा का प्रयोग कर सके। उन्होंने कहा कि सरल केन्द्र में कार्य करने वाले कर्मचारियों का व्यवहार मधुर व सौम्य होना चाहिए तथा पीने के पानी का सही प्रबन्ध होना चाहिए। श्री दहिया ने कहा कि सरकार की मंशा है कि लोगों को एक छत के नीचे सभी सुविधा उपलब्ध हो इसके लिए सरल केन्द्र बनाया गया है। सरल केन्द्र में रजिस्ट्रेशन, ड्राईविंग लाईसैंस, हरसमय, सीएम विंडो आदि अनेक सेवाएं प्रदान की जा रही है। इसमें सरल केन्द्र में टोकन व्यवस्था की गई है जो कि हैल्प डैस्क पर उपलब्ध होता है। इस सरल केन्द्र में 23 मई से 7 जून 2018 तक 1895 टोकन जारी किये गये है। 
सरल केन्द्र में एडीसी ने स्वयं टोकन जारी करने वाली प्रक्रिया को जाना तथा एक टोकन का निरीक्षण भी किया। उन्होंने कहा कि टोकन प्रक्रिया से पारदर्शिता से पहले आयो पहले पाये के आधार पर कार्य हो रहा है। जिससे यहां पर आने वाले लोगों को उसका लाभ मिल रहा है। उन्होंने डीआईओ को निर्देश दिये कि डिस्पले में टोकन नम्बर बडा आना चाहिए ताकि दूर से ही लोगों को पता चल सके। इसके अलावा टोकन व काउंटर नम्बर अग्रेजी के साथ हिन्दी में भी आना चाहिए ऐसी व्यवस्था की जाए। 
एडीसी ने कहा कि उपायुक्त के मार्गदर्शन में इस सरल केन्द्र का निर्माण समय सीमा में किया गया है। यह उन्हीं की मेहनत का परिणाम है जो इतनी जल्दी बनकर तैयार हो गया तथा लोगों को इसमें एक ही छत के सभी सुविधा मिलने लगी है। इस सरल केन्द्र में सीसीटीवी कैमरे भी लगाये गये है जिससे सरल केन्द्र में आने वाले तथा इसमें हो रहे कार्यो की गतिविधियों की निगरानी भी रखी जा रही है। 
इस अवसर पर एसडीएम जितेन्द्र कुमार ने सरल केन्द्र के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि सरल केन्द्र को वातानुकूलित बनाया गया है तथा इसमें वेंटिंग ऐरिया भी निर्धारित है ताकि लोगों का जब तक टोकन का नम्बर आये तब तक उनके लिए बैठने की भी उचित व्यवस्था है। एसडीएम ने बताया कि बुजुर्ग व दिंव्यांगो के लिए सरल केन्द्र में प्राथमिकता के आधार पर कार्य किये जाते है तथा दिव्यांगों के लिए रैम्प की व्यवस्था की गई है ताकि उन्हें कोई परेशानी न हो।
मौहल्ला सराय बलभद्र, रेवाडी से आई पारूल रसतोगी ने सीएम विंडो पर अपनी शिकायत दर्ज कराई उन्होंने बताया कि 10 मिनट में उनकी शिकायत सीएम विंडो पर दर्ज हो गई तथा एसएमएस के द्वारा उन्हें नम्बर भी अॅलाट हुआ व इसकी रसीद भी मिल गई। इस सरल केन्द्र के माध्यम से उन्हें अपनी समस्या रखने का मौका मिला है। जगजीत सिंह जो कि अपनी गाडी का रजिस्ट्रेेशन कराने आये थे उन्होंने बताया कि उनका कार्य 25 मिनट में हो गया जबकि इससे पहले इस कार्य के लिए 3 से 4 दिन तक कार्यालय के चक्कर लगाने पडते थे। यह सरल केन्द्र लोगो के लिए मिल का पत्थर साबित हुआ है। डहीना से आये आदेश ने बताया कि वह अपना लर्निंग ड्राईविंग लाईसैंस बनवाने के लिए आऐ थे उनका जैसे ही नम्बर आया 15 मिनट में उनके कार्य की औपचारिकताएं पूरी हो गई तथा उन्हें हाथो हाथ लाईसैंस मिल गया जो उन्होंने सोचा भी नहीं था।
 
Have something to say? Post your comment