Sunday, November 18, 2018
Follow us on
Haryana

जी सर से काम नहीं चलेगा, रोड सेफ्टी के लिए काम करें-एडीसी दहिया

June 04, 2018 05:15 PM
 अतिरिक्त उपायुक्त एवं क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण सचिव प्रदीप दहिया ने कहा है कि जी सर से काम नहीं चलेगा, रोड सेफ्टी के लिए कार्य करें, इस कार्य में कोताही किसी भी हालत में सहन नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि सडक सुरक्षा के लिए उठाये गये कदमों से हम लोगों का जीवन बचा सकते है। हमारी एक लापरवाही के कारण कई बार पूरा परिवार तबाह हो जाता है। 
अतिरिक्त उपायुक्त सोमवार को जिला सचिवालय सभागार में सडक सुरक्षा समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सडक पर साईन बोर्ड लगाये जाए तथा जो ब्लैक स्पोट है उनको चिह्नित कर उन पर कार्य करें। दहिया ने निर्देश दिये कि सडक सुरक्षा को लेकर सभी सम्बंधित विभाग समय पर अपनी एटीआर भेजे।
उन्होंने कहा कि सडक़ पर चलते समय यातायात नियमों का पालन करें और दूसरे लोगों को भी यातायात के नियमों का पालन करने के लिए जागरूक करें। गलत तरीके से सडक़ पर चलने वाला या वाहन चलाने वाला व्यक्ति अपने साथ-साथ दूसरों की जान भी जोखिम में डालता है। इसके लिए पुलिस भी जागरूकता कैम्प लगाये तथा स्कूलों में इसके लिए प्रतियोगिताएं आयोजित करवाई जाए। 
 बैठक में बताया गया कि 18 अप्रैल से 29 मई तक बिना हैलमेट के 3392, पीलन राईडर (पीछे बैठने वाली सवारी) बिना हैलमेट के 241, बिना सीट बैल्ट के 1654, तीव्र गति के 328, गुड्स कैरियर वाहनों में सवारी बैठाने के 27, गलत पार्किग के 314, गलत दिशा में चलाने पर 201, नाबालिकों द्वारा वाहन चलाने के 58, नशा करके वाहन चलाने वालो के 33 चालान किये गये तथा 226 लाईसैंस पुलिस द्वारा निलम्बित भी किये गये। 
अतिरिक्त उपायुक्त ने ईओ नगरपरिषद को निर्देश दिये कि शहर के अन्दर जो टैफ्रिक रैड लाईट है उनको ठीक करवाया जाये। अतिरिक्त उपायुक्त ने ईओ को कहा कि शहर के व्यस्तम बाजार में अतिक्रमण पूरी सख्ती के साथ हटवाया जाये, व्यस्त जगह पर दुर्घटनाओं की संभावने अधिक रहती है। उन्होंने कहा कि अतिक्रमण हटवाना जनहित में है तथा नगरपरिषद ने इसके लिए काम भी किया है। लेकिन अभी इसमें और अधिक काम करने की आवश्यकता है। बैठक में ईओ नगरपरिषद मनोज कुमार ने बताया कि लगभग 16 लाख के चालान अतिक्रमण के किये है तथा अतिक्रमण हटवाने में राजनेताओ, अधिकारियों व पुलिस का अच्छा सहयोग मिला है।
दहिया ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि जिला में जो भी पंजीकृत एम्बुलैंस की गाडियां है उनका निरीक्षण किया जाए तथा उनमें सभी उपकरण मौजूद है या नहीं इसकी जांच की जाएं। 
उन्होंने एनएचआई अधिकारियों को कहा कि वे अपने कामों में तेजी लाएं। उनके द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग पर करवाए जा रहे कार्य से वे संतुष्ट नहीं हैं। उन्होंने स्कूल बसों के बारे में कहा कि सुरक्षित स्कूल वाहन पॉलिसी का पालन किया जाए तथा बसों में जो परिचालक हैं उन्हें प्राथमिक चिकित्सा की जानकारी दी जाए।
इस मौके पर एसडीएम रेवाडी जितेन्द्र कुमार, एसडीएम बावल सतेन्द्र दुहन, नगराधीश डा. विरेन्द्र, डीडीपीओ राजबीर खुण्डिया, डीएसपी अनिल कुमार, जीएम रोडवेज बलवंत गोदारा, जिला यातायात निरीक्षक हरिसिंह, नवीन कुमार, आरएसए के मोहित सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।
Have something to say? Post your comment