Wednesday, October 24, 2018
Follow us on
Haryana

कर्मचारियों पर आए फैसले को लेकर सुप्रीम कोर्ट जाएगी सरकार:कैप्टन अभिमन्यु

June 03, 2018 04:48 PM
हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने जाट आरक्षण तथा अस्थाई कर्मचारियों को स्थाई करने की नीतियों को लेकर पूर्व की कांग्रेस सरकार को जमकर घेरा और कहा कि अस्थाई कर्मचारियों को स्थाई बनाने की नीति तथा जाट सहित विभिन्न जातियों को आरक्षण देने की नीतियों में चुनावी लाभ के लिए खामी छोड़ी गई लेकिन वर्तमान सरकार दोनों मसलों पर संवेदनशील है। हरियाणा सरकार कर्मचारियों के मामले में शीघ्र ही सुप्रीम कोर्ट जाएगी। वित्त मंत्री आज झज्जर में भारत सरकार के चार वर्ष पूर्ण होने पर बुद्धिजीवी सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद स्थापित करते हुए कहा कि पिछले चार वर्ष के दौरान हमारे प्रधानमंत्री ने प्रतिदिन 18 से 20 घंटे देश के लिए काम किया है बिना छुट्टी लेकर काम करने वाले ऐसे नेतृत्व के बारे में घर-घर जाकर बताए। प्रधानमंत्री का एक ही लक्ष्य है कि देश को कैसे महान बनाया जाए। कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत सरकार के चार वर्षों के कार्यकाल में जनधन योजना के तहत 31 करोड़ बैंक खाते खोले गए, प्रधानमंत्री बीमा योजनाओं से 12 रुपये से 330 रुपये तक के प्रीमियम पर दो लाख से पांच लाख रुपए तक की बीमा सुरक्षा, पेंशन योजनाओं से सामाजिक सुरक्षा, उज्ज्वला योजना से देश के दस करोड़ गरीब परिवारों में रसोई गैस के कनेक्शन तथा इस वर्ष के बजट में आयुष्मान भारत योजना से दस करोड़ परिवारों के 50 करोड़ सदस्यों का प्रति वर्ष पांच लाख रुपए तक का उपचार नि:शुल्क करने का प्रावधान किया गया है। शहीदों के 213 आश्रितों को रोजगार देकर बढ़ाया मान कैप्टन अभिमन्यु ने भारत सरकार के साथ-साथ हरियाणा सरकार की ओर से देश की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहूति देने वाले 213 शहीदों के आश्रितों को रोजगार उपलब्ध कराने की बात कही। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व में सभी शहीदों के आश्रितों को नौकरी दी गई, पिछली सरकार के खिलाडिय़ों को दिए जाने वाले 80 करोड़ रुपए भी वर्तमान सरकार ने दिए तथा प्राकृतिक व अन्य आपदाओं से फसलों को पहुंचे नुुकसारन की भरपाई के लिए वर्तमान सरकार के कार्यकाल में 3043 करोड़ रुपए का मुआवजा किसानों के खाते में जमा कराया जा चुका है। उन्होंने विपक्षी दलों पर हरियाणा के भाईचारा को बिगाडऩे का आरोप लगाते हुए कहा कि क्षेत्रवाद-जाति-पाति के नाम पर हरियाणा को टुकड़ों में बांटा गया लेकिन वर्तमान सरकार हरियाणा एक-हरियाणवी एक तथा सबका साथ-सबका विकास की भावना पर काम करती है। यहीं नहीं रूकेगा कारवां, तेजी से विकास का दौर होगा प्रारंभ उन्होंने झज्जर को हरियाणा की ऐतिहासिक वीर भूमि तथा राजनीति में अपनी पहली पाठशाला बताते हुए नमन करते हुए कहा कि 2014 में भ्रष्टाचार से तंग आकर देश की जनता ने कामाख्या से कच्छ और कश्मीर से कन्याकुमार तक देश के लोगों ने जाति-धर्म, किसान-व्यापारी की भावना से ऊपर उठकर भाजपा की सरकार बनाई थी। इन चार वर्षों में यह विकास, आत्मविश्वास व खुशहाली का कारवां यहीं नहीं रूकेगा बल्कि प्रारंभ होगा। उन्होंने सोशल मीडिया को संवाद का सशक्त माध्यम बताते हुए कहा कि संवाद से ही लोकतंत्र निखरता है या संवाद लोकतंत्र की ताकत है। उन्होंने कहा कि यह चार वर्ष विवेचना के साल है। इन चार वर्षों में 21वीं सदी भारत के नाम करने, विश्व गुरू का दर्जा हासिल करने, सोने की चिडिय़ा तथा फिर से भारत को महान बनाने की भूमिका रचते हुए नींव रखी गई। कार्यक्रम का शुभारंभ वित्त मंत्री ने दीप प्रज्ज्वलित करके किया। कार्यक्रम में पहुंचने पर वित्त मंत्री तथा बहादुरगढ़ के विधायक नरेश कौशिक का कार्यकर्ताओं ने पगड़ी बांध कर स्वागत किया। इस अवसर पर भाजपा विधायक नरेश कौशिक तथा जिला प्रभारी वीर कुमार यादव ने भी अपने विचार रखे।
Have something to say? Post your comment