Sunday, January 20, 2019
Follow us on
Haryana

मनोहर लाल ने की शिरकत, बच्चों के साथ खेली कबड्डी और खुश रहने का दिया मंत्र

May 27, 2018 05:27 PM
हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि देश एवं प्रदेश के सर्वांगीण विकास के लिए वहां का माहौल खुशनुमा होना बहुत जरूरी होता है। इसलिए खुश रहे और प्रदेश के विकास में अपना अहम योगदान अदा करे। यह बात मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने जींद के ऐतिहासिक रानी तालाब पर आयोजित राहगीरी कार्यक्रम में उमड़े जन सैलाब को सम्बोधित करते हुए कहीं। उन्होंने कहा कि आज देश में 5 करोड़ लोग मनोरोगियों की श्रेणी में आते है। इसका मुख्य कारण तनाव है। लोगों को इस समस्या से बाहर निकालने के लिए प्रदेश सरकार ने राहगीरी कार्यक्रम की शुरूआत की है। प्रदेश के 13 जिलो में यह कार्यक्रम शुरू हो चुका है। जल्द ही शेष जिलो में भी राहगीरी कार्यक्रम शुरू करवाये जायेंगे। लोग उपमण्डल स्तर पर भी राहगीरी कार्यक्रम शुरू करवाने की मांग कर रहे है, लोगों की इस मांग को भी जल्द पूरा किया जायेगा। राहगीरी कार्यक्रम शुरू करने का मुख्य उद्देश्य तनाव को दूर भगाकर खुशनुमा जीवन जीना है। उन्होंने लोगों का आहवान किया कि वे सप्ताह भर के तनाव को खत्म करने के लिए हर संडे को फन- डे के रूप में मनाये। इस दिन यार दोस्तों, परिजनों के साथ खूब मौज मस्ती करे और सोमवार से फिर सप्ताह के लिए काम में पूरी ऊर्जा के साथ जुट जाये। यह जीवन में सफलता हासिल करने का मंत्र भी है। गांवों के युवा क्लबों को एक बार फिर से एक्टिवेट होने की है जरूरत : मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में तीन हजार युवा क्लब पंजीकृत है, लेकिन मात्र 700 युवा क्लब ही कार्यशील है। युवा क्लबों को कार्यशील करना आज की जरूरत बन गया है, इसलिए युवा क्लबों ने गांवों में समय- समय पर खेल, मनोरजंन व अन्य समाज उत्थान के लिए गतिविधियां करवाते रहना चाहिए। सभी क्लबों को एक्टिवेट होने की जरूरत है। खुश रहना एक कला है। इस कला को सीखकर व्यक्ति बिना धन दौलत एवं पावर के खुशमय जीवन व्यतीत कर सकता है। इसलिए कभी भी खुशी ढूढऩे के लिए धन- दौलत कमाने के पीछे न भागें। उन्होंने कहा कि हमारे अंदर अथाह ताकत होती है, इसे पहचाने खुद, परिवार, प्रदेश एवं देश के विकास में जुट जाये। हैप्पी हरियाणा बनाना सरकार की प्राथमिकता : मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार का उद्देश्य हैप्पी हरियाणा बनाना है। इस उद्देश्य में तभी सफलता हासिल की जा सकती है जब लोग तनाव से दूर हटकर खुशी- खुशी जीवन बितायें। राज्य सरकार द्वारा इसको लेकर गांव- गांव में व्ययामशालाएं, योगशालाएं तथा पार्कों का निर्माण करवाया जा रहा है ताकि लोग यहां शकुन के पल बिता सके , इनमें योगा प्रशिक्षकों की भी नियुक्ति की जा रही है। प्रथम चरण में एक हजार गांवों में योग एवं व्ययामशालाएं स्थापित करवाये जायेंगे। विगत 5 मई को प्रदेश में एक साथ 500 व्यायामशाला का उद्घाटन किया गया था, जोकि एक रिकॉर्ड बना है । देश के इतिहास में कभी भी एक साथ इतनी व्यायामशालाओं का उद्घाटन एक साथ कभी नहीं हुआ। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल विश्राम गृह से राहगीरी कार्यक्रम में साईकिल पर सवार होकर पहुंचे। लगभग एक किलोमीटर लम्बे रास्ते में स्कूली विद्यार्थियों द्वारा जगह- जगह पर योग, कराटे, जुड़ों, तलवार बाजी, कबड्डी समेत कई खेलों के अखाड़े तैयार किये गये थे। मुख्यमंत्री ने कबड्डी के अखाड़े में जाकर युवाओं के साथ कबड्डी खेली। इस दौरान उन्होंने कई रेड डाली और विपक्षी टीम का कोई भी खिलाड़ी उनको पकड नहीं पाया। इसके बाद उन्होंने स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगाये गये स्वास्थ्य जांच शिविर में स्वास्थ्य की जांच करवाई। राहगीरी कार्यक्रम में कई खाश बाते रही, मुख्यमंत्री ने अपना सम्बोधन देने से पहले आठवीं कक्षा की छात्रा अदिती को बोलने के लिए बुलाया। इस छात्रा ने कविता सुनाकर लोगों का मन मोहा। प्राईस इंडैक्स नहीं अब हैप्पीनैस इंडैक्स पर ध्यान देने की है जरूरत : मुख्यमंत्री ने कहा कि बड़ी- बड़ी ईम्मारतें खड़ा कर देना ही विकास नहीं है, सही मायने में देश की जनता का खुश रहना ही विकास है। आजकल दूनिया के विकसित देश प्राईस इंडैक्स की जगह हैप्पीनैस इंडैक्स की ओर ध्यान दे रहे है। हर सप्ताह सर्वे किया जाता है कि इस सप्ताह दूनिया के किस देश के लोग सबसे अधिक खुश रहे है। भाजपा की सरकार ने हैप्पीनैस इंडैक्स की ओर जनता को खुशनुमा माहौल देने के लिए खूब प्रयास कर रही है। इसी उद्देश्य की प्राप्त के लिए राहगीरी कार्यक्रम शुरू किये गये है जो पूरी तरह से सफल रहे है। ओ- छोरो जी सा आग्या कहकर मुख्यमंत्री ने जीता जनता का दिल: मुख्यमंत्री ने इस कार्यक्रम के दौरान ठेठ हरियाणवी अंदाज में लोगों से बातचीत की। उन्होंने राहगीरी कार्यक्रम की प्रस्तुतियों को देख युवाओं की ओर इशारा करते हुए कहा कि ओ -छोरो - जी - सा आग्या। मुख्यमंत्री के इस संवाद ने युवाओं में जोश भरने का काम किया। इसके बाद कार्यक्रम में हंसी के ठहाके लगते रहे। सांस्कृतिक प्रस्तुतियों ने भी बिखेरी मनोहर छठा: राहगीरी कार्यक्रम में स्कूली बच्चों से लेकर प्रदेश के नामी कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। सभी प्रस्तुतियां एक से बढक़र एक रही। बोल तेरे मीठे- मीठे, राजी- राजी रहा करो, हंसते हंसाते रहा करो गीतों पर समा बांधा । हरेन्द्र राणा ने भी काफी जोरदार सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी। स्कूली बच्चे भी इस मामले में पीछे नहीं रहे। उन्होंने भी मंझे हुए कलाकारों की तरह शानदार प्रस्तुतियां दी। रानी तालाब की भव्यता ने भी राहगीरी कार्यक्रम को चार चांद लगाने में कसर बाकी नहीं रखी। एक तरफ कार्यक्रम में शानदार कार्यक्रमों की प्रस्तुति हो रही थी वहीं दूसरी तरफ रानी तालाब में पानी चांदी की तरह चमक रहा था और फव्वारों के बीच बच्चे बोटिंग का मजा ले रहे थे। जिस किसी ने भी यह दृश्य देखा वह इस दृश्य को देखता ही रह गया। लोगों ने जमकर कार्यक्रम की मोबाईल पर वीडियो बनाई। कार्यक्रम में सफीदों के विधायक जसबीर देशवाल, बीजेपी के प्रदेश सचिव जवाहर सैनी, जिला अध्यक्ष अमरपाल राणा, रामफल लौट, भाजपा जिला उपाध्यक्ष डा० राज सैनी, ओपी पहल, संतोष दनौदा, पूर्व सांसद सुरेन्द्र बरवाला, एचपीएससी के सदस्य जय भगवान गोयल तथा भाजपा के हजारों कार्यकर्ता मौजूद रहे। प्रशासन की ओर से एडीजीपी एवं राहगीरी कार्यक्रम के नोडल अधिकारी ओपी सिंह, डीसी अमित खत्री, प्रवर पुलिस अधीक्षक डा० अरूण सिंह, एडीसी विक्रम, जींद के एसडीएम वीरेन्द्र सहरावत, नगराधीश सत्यवान सिंह व अन्य सभी अधिकारीगण उपस्थित रहे।
 
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
Haryana govt to send its list of 10 to UPSC, soon Punjab-Stage set for Kejriwal’s event in Malwa today JIND - घर पहुंचे विपुल-कविता को मांगेराम ने दुलार किया, समर्थन पर चुप PANIPAT हैंडलूम एसो. चुनाव की लड़ाई पहुंची सड़क पर, दोनों गुटों में गाली-गलौज, हाथापाई की आई नौबत HARYANA-प्रति एकड़ 30500 रु. का निकल रहा आलू, लागत मूल्य है 40 हजार HR CM CITY KARNAL-बदमाश नहीं पकड़े तो तेरहवीं को जीटी रोड जाम की धमकी, विधायकों के हस्तक्षेप पर माने परिजन 'रोडवेज बेड़ा बढ़ाने की बजाय सरकार 700 निजी बसों को लाने पर दे रही जोर' हरियाणा रोडवेज कर्मचारी तालमेल कमेटी 24 को रोडवेज बचाओ, रोजगार बचाओ सम्मेलन करेगी JIND- धर्मशाला और होटल फुल, कई दिसंबर में हुए थे बुक जींद उप चुनाव का असर : होटलों और धर्मशालाओं में रुकने के लिए कोई कमरा खाली नहीं, कुछ होटलों ने बढ़ाए रेट GURGAON-Living in the shadow of fear and panic AMBALA-ऑनलाइन नक्शा आवेदन प्रक्रिया फेल होने के बाद निगम अब शुरू करेगा मेन्युअल