Thursday, November 15, 2018
Follow us on
Haryana

गांवों के तालाबों के सुधारीकरण के लिए जल्द गठित किया जायेगा तालाब प्राधिकरण : मुख्यमंत्री मनोहर लाल

May 27, 2018 05:24 PM
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि गांवों के तालाबों का सुधारीकरण के लिए राज्य सरकार द्वारा तालाब प्राधिकरण का गठन किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने यह घोषणा आज जींद में पत्रकारों से बातचीत करते हुए की। इस अवसर पर सफीदों के विधायक जसबीर देशवाल समेत भाजपा के कई पदाधिकारी मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा प्रदेश शिक्षा में, खेल सहित अन्य हर क्षेत्र में तेजी से विकास कर रहा है। वर्तमान सरकार ने साढ़े तीन साल के कार्यकाल में अनेक विकास कार्य करवाकर जनता का दिल जीतने का काम किया है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार ने दस वर्ष के कार्यकाल के दौरान 6500 विकास परियोजनाओं की घोषणा की थी, लेकिन हमारी सरकार ने साढ़े तीन साल में 4500 विकास परियोजनाओं की घोषणा की है जिनमें से 3300 विकास परियोजनाओं का कार्य पूर्ण हो चुका है। उन्होंने कहा कि पिछले साढ़े तीन वर्षों में प्रदेश का इतना विकास हुआ है उतना विकास तो पिछले 48 वर्षों में भी नहीं हुआ था। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश का समान विकास करवाया जा रहा है। प्रदेश के किसी भी क्षेत्र का व्यक्ति सरकार पर यह कहकर ऊंगली नहीं उठा सकता कि उसके क्षेत्र में बराबर विकास नहीं हुआ है। प्रदेश में 300 ऐसे रजवाहों की टेल थीं, जहां पिछले तीस वर्षों से पानी की एक बूंद तक नहीं पहुंची थी, लेकिन वर्तमान सरकार ने इनमें से 293 टेलों पर पानी पहुंचाने का काम करके दिखाया है। उन्होंने जींद में हुए विकास कार्यो की भी जानकारी दी और कहा कि जल्द ही जींद में मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य शुरू हो जायेगा। इसके लिए अगले माह टेण्डर अॅलाट करने की कार्यवाही शुरू हो जायेगी। उन्होंने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि जींद शहर की सडक़ों के सुधारीकरण के लिए 19 करोड़ रूपये की राशि जारी की जा चुकी है। इस कार्य को लेकर भी जल्द ही जिला प्रशासन द्वारा टेण्डर लगा दिये जायेंगे। मुख्यमंत्री ने एक अन्य सवाल का जवाब देते हुए माना कि प्रदेश में फिलहाल डॉक्टरों की कमी है लेकिन इस कमी को दूर करने के लिए सरकार द्वारा 22 नये मेडिकल कॉलेज बनाये जायेंगे। जिनमें से एक कॉलेज जींद जिले में भी बनाया जायेगा। प्रदेश में 27 हजार डॉक्टरों के पद है। जिनमें से 700 पद भरे हुए है। रिक्त पड़े पदों को भरने के लिए सरकार द्वारा कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार न्यायालय में एसवाईएल का केस जीत चुकी है। इस पर जल्द काम शुरू कराने को लेकर सरकार द्वारा न्यायालय में याचिका डाली जायेगी। आने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा का सीधा मुकाबला किस पार्टी से होगा, इस सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा को छोडक़र हरियाणा में और कोई पार्टी नहीं है। जो दो पार्टियां हुआ करती थी अब वे अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही है और आने वाले चुनाव में एक बार फिर से भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनेगी।
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
राज्य प्रदर्शन एवं दृश्य कला विश्वविद्यालय, रोहतक’ का नाम बदलकर ‘पंडित लखमीचंद राज्य प्रदर्शन एवं दृश्य कला विश्वविद्यालय, रोहतक’ किए जाने से देश एवं दुनिया के लोगों को हरियाणवी कला एवं संस्कृति से और अधिक रूबरू होने का अवसर मिलेगा:राम बिलास शर्मा राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में पंजाब नई राजधानी (परिधि) नियंत्रण अधिनियम 1952 (1953 की अधिनियम संख्या 1) में संशोधन को मंजूरी दी गई सीमाओं (कोर सीमाओं के बाहर) के भीतर आने वाले क्षेत्र के लिए ‘सस्ती आवास नीति (पीएमएई) 2018’ को स्वीकृति प्रदान की गई राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में राज्य के शहरी क्षेत्रों में समग्र एकीकृत डेयरी परिसरों के विकास के लिए ब्लूप्रिंट तैयार करने के लिए गठित की गई हिसार को हस्तांतरित करने के पशुपालन एवं डेयरी विभाग के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की गई मंत्रिमंडल की बैठक में इलैक्ट्रोनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग का नाम बदल कर सूचना प्रौद्योगिकी, इलैक्ट्रोनिक्स एवं संचार विभाग रखने के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की गई मंत्रिमंडल की बैठक में हरियाणा खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग, अधीनस्थ कार्यालय (ग्रुप डी) सेवा नियम, 2018 को स्वीकृति प्रदान की गई। राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में हरियाणा खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग, मुख्यालय (ग्रुप डी) सेवा नियम, 2018 को स्वीकृति प्रदान की गई मंत्रिमंडल की बैठक में स्वास्थ्य विभाग ने मुख्य औषधाकारक (चीफ फार्मेसिस्ट) के पद को राजपत्रित घोषित करने के लिए विभागीय सेवा नियमों में संशोधन करने की स्वीकृति प्रदान की गई उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम (यूएचबीवीएन) को दिए जाने के लिए 625.93 करोड़ रुपये की राज्य सरकार की गारंटी देने की स्वीकृति प्रदान की