Sunday, November 18, 2018
Follow us on
Haryana

PANCHKULA -निगम चुनाव के लिए रह गया सिर्फ एक महीना, संशय बना है कि चुनाव होंगे भी या नहीं

May 24, 2018 06:09 AM

COURSTEY DAINIK BHASKAR MAY 24

हाईकोर्ट में केस पेंडिंग होने से हो रही दिक्कत

उम्मीदवार कंफ्यूज्ड हैं कि निगम चुनाव की तैयारी शुरू करें या इंतजार करें

सिटी रिपोर्टर | पंचकूला

पंचकूला में नगर निगम बरकरार रहेगा या नहीं? कालका, पिंजौर और गांवों को अलग कर वहां नगर पालिका, नगर परिषद बनेगी या नहीं? क्या पंचकूला में अलग से नगर परिषद का गठन होगा? नगर निगम या नगर परिषद के चुनाव कब होंगे? इन सवालों पर संशय बरकरार है। सभी पार्षदों सहित चुनाव लड़ने के इच्छुक संभावित उम्मीदवार कंफ्यूज्ड हैं कि निगम चुनाव की तैयारी शुरू कर दे या अभी इंतजार करे। पंचकूला नगर निगम का कार्यकाल खत्म होने में करीब एक माह का समय शेष बचा है। 4 जुलाई को वर्तमान पार्षदों का कार्यकाल खत्म हो जाएगा। इस कारण अभी तक चुनावों के लिए प्रोसेस शुरू नहीं किया गया है। इसकी एक वजह पंचकूला नगर निगम के भविष्य को लेकर पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में केस पेंडिंग होना है। इस मामले की सुनवाई 3 जुलाई को होनी हैं।
इलेक्शन कमिश्नर ने पंचकूला नगर निगम के अफसरों को लैटर लिखकर वार्डबंदी संबंधित डीटेल मांगी है। निगम से चुनाव आयोग की तरफ से एमसी एरिया की कुल जनसंख्या, महिलाओं व पुरूषों की वार्ड वाइज जनसंख्या, एससी पॉपुलेशन की जानकारी मांगी गई है। इस आधार पर नए सिरे से महिलाओं व पिछड़ी जातियों के लिए वार्ड रिजर्व किए जाएंगे। नगर निगम ने तीन माह पहले शहर में नए सिरे से वार्डबंदी के लिए सर्वे शुरू कराया था। यह सर्वे खत्म हो चुका है लेकिन अभी पूरी तरह रिकॉर्ड तैयार करना बाकी है। इस सर्वे के आधार पर पंचकूला एमसी एरिया की कुल जनसंख्या 4,69,318 हैं। इनमें से 2,83,984 लोग जनरल केटेगरी, 1,06,382 पिछड़ी जाति, 78,952 बैकवर्ड क्लासेज से हैं। सर्वे के आधार पर पंचकूला एमसी एरिया में 75,401 लोगों का अपना घर है जबकि 47,929 लोग किराये पर रह रहे हैं। नगर निगम में कुल 20 वार्ड हैं। हर वार्ड में महिलाओं व पुरूषों का अलग अलग आंकड़ा तैयार किया जा रहा है।
निगम कमिश्नर राजेश जोगपाल का कहना है कि चुनाव आयोग की तरफ से वार्डबंदी संबंधी मांगी गई जानकारी अगले दो-तीन दिन में जमा करा देंगे। निगम चुनाव की संभावित डेट के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इसकी अभी कोई जानकारी नहीं है। इसका फैसला चुनाव आयोग को लेना है।
वर्तमान नगर निगम का कार्यकाल 4 जुलाई को खत्म होने जा रहा है। कालका की एमएलए लतिका शर्मा ने अगस्त, 2017 में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल को लैटर लिखकर पिंजौर, कालका व वहां के गांवों को पंचकूला नगर निगम से अलग करने की मांग की थी

Have something to say? Post your comment