Thursday, July 19, 2018
Follow us on
Haryana

HARYANA-छात्राओं ने सुरक्षा अधिकारी से मांगी मदद तो बोला-रात को क्यों घूमती हो, छेड़खानी तो होगी

May 23, 2018 05:39 AM

COURSTEY DAINIK BHASKAR MAY 23

एमडीयू कैंपस में फॉरच्यूनर सवार मनचलों ने लॉ की 4 छात्राओं से की छेड़छाड़

भास्कर न्यूज | रोहतक

एमडीयू में एक बार फिर सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े हुए हैं। एमडीयू में देर शाम लॉ स्टूडेंट्स के साथ छेड़खानी की घटना को लेकर जमकर हंगामा हुआ। एमडीयू में लाइब्रेरी से हॉस्टल की तरफ जा रही लॉ फाइनल ईयर की चार छात्राओं के साथ मंगलवार रात को फॉरच्यूनर सवार मनचलों ने छेड़खानी की। छात्राओं का आरोप है कि जब उन्होंने इसकी शिकायत एमडीयू के एक सुरक्षा अधिकारी से की तो उसने आरोपी युवकों को पकड़ने की जगह उन्हीं पर टिप्पणी की। उसने कहा कि रात को क्यों निकलती हो, छेड़खानी तो होती रहेगी, चाहे तोप चला लो। सुरक्षा अधिकारी पर नशे में होने के भी आरोप लगे। इस पर उसकी दो बार जांच हुई, जिसमें नशे में न होने की बात सामने आई। अब सुरक्षा अधिकारी का कहना है कि वह छात्राओं के खिलाफ मानहानि का केस दायर करेगा। छात्राओं की शिकायत पर पुलिस ने मनचलों पर केस दर्ज कर लिया है।
नए एसएचओ के चार्ज संभालते ही आई छेड़खानी की शिकायत
एसपी के आदेश के बाद अर्बन एस्टेट थाना प्रभारी एसआई देवेंद्र को पीजीआई थाने का प्रभारी बनाया गया है। जैसे ही वह चार्ज संभालने थाने में पहुंचे तो छात्राएं शिकायत लेकर आ गई। इंचार्ज देवेंद्र ने बताया कि छेड़खानी में केस दर्ज कर लिया है।
छात्राओं ने अधिकारी पर लगाया शराब के नशे में अभद्रता का आरोप
रोहतक. एमडीयू में छात्राओं के साथ छेड़छाड़ के मामले को लेकर पीजीआई पुलिस थाने में सुरक्षा अधिकारी का एल्कोहल टेस्ट करती पुलिस।
पुलिस ने एल्को सेंसर से टेस्ट किया तो नहीं आया एल्कोहल, सिविल अस्पताल में भी हुई जांच
छात्राओं की शिकायत के आधार पर पीजीआई थाना पुलिस ने एल्को सेंसर से सुरक्षा अधिकारी की जांच की। कुछ देर बाद सेंसर की रिपोर्ट में पता चला कि सुरक्षा अधिकारी ने शराब नहीं पी रखी थी। छात्राओं ने इसको मानने से इनकार कर पीजीआई के डॉक्टरों से जांच कराने की मांग की। बाद में सुरक्षा अधिकारी को ब्लड सैंपल के लिए सिविल अस्पताल भेज दिया गया। यहां डॉक्टर ने फिजिकली जांच की। डॉक्टर ने लिखित में दिया कि सुरक्षा अधिकारी की सांस व कपड़ों में शराब की कोई स्मैल नहीं आई है। हालांकि आरोपी अधिकारी के ब्लड सैंपल नहीं लिए गए।
जांच में नशे की पुष्टि नहीं, अधिकारी ने कहा-मानहानि का केस करूंगा
अधिकारी की टिप्पणी पर छात्राओं ने किया हंगामा
छात्राओं ने बताया कि वीसी से बात करने के बाद वह सुरक्षा अधिकारी के पास पहुंचीं। यहां छात्राओं ने सुरक्षा अधिकारी से संबंधित गाड़ी के बारे में पूछा। छात्राओं का आरोप है कि सुरक्षा अधिकारी ने आरोपियों को पकड़ने की बजाय कहा कि इतनी रात को क्यों आती हो, छेड़खानी होती रहेगी, चाहे तोप चला लो। इस पर छात्राएं बिफर गईं। छात्राओं व उनके सहपाठियों ने हंगामा कर दिया। आरोप था कि शराब के नशे में सुरक्षा अधिकारी ने उनके साथ अभद्रता की है। सुरक्षा अधिकारी का मेडिकल टेस्ट कराने के लिए दोनों पक्ष पीजीआई थाने पहुंच गए। छात्राओं का आरोप है कि सुरक्षा अधिकारी ने जानबूझकर आराेपियों की कार को नहीं पकड़ा, जबकि नंबर भी दिया गया था।
मैंने कुछ नहीं कहा, आराेप गलत : सुरक्षा अधिकारी
आरोपी सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि उन्होंने छात्राओं की शिकायत आने के बाद संबंधित गाड़ी की तलाश की। मगर आरोपी पहले ही फरार हो गए थे। उन्होंने कहा कि छात्राओं के साथ कोई भी अभद्र बातचीत नहीं की। न ही उन्होंने शराब पी हुई थी। पुलिस के एल्को सेंसर में भी जांच के दौरान 0 लेवल आया है। छात्राओं द्वारा लगाए जा रहे सारे आरोप बेबुनियाद हैं। अस्पताल की जांच रिपोर्ट में भी नशे के सेवन में क्लीन चिट मिलने के बाद सुरक्षा अधिकारी ने कहा कि वह उन सभी विद्यार्थियों पर मानहानी का केस करेंगे, जिन्होंने उन पर शराब पीकर अभद्रता करने का आरोप लगाया है। इस बारे में दोनों पक्षों की बीच देर रात तक बातचीत चलती रही। अभी कोई नतीजा नहीं निकला है।
गाड़ी का नंबर देने के बावजूद नहीं पकड़े गए कार सवार चार आरोपी
वीसी को दी शिकायत तो बोले-केस करवाओ
लॉ की छात्राओं ने बताया कि लाइब्रेरी में पढ़ाई करने के बाद वह रात करीब पौने 8 बजे यमुना हॉस्टल में जा रही थी। जब वह रोज गार्डन के पास पहुंची तो पीछे से फॉरच्यूनर में सवार होकर 3-4 युवक आए। युवकों ने छात्राओं के पास आकर अश्लील इशारे व टिप्पणी की। इसके बाद आरोपी मौके से फरार हो गए। तभी छात्राओं ने मामले की शिकायत सुरक्षा अधिकारी से की और गाड़ी का नंबर भी बताया। इसके बाद छात्राएं व अन्य छात्र इकट्ठा होकर वीसी आवास पर पहुंच गई। यहां पर छात्राओं ने फोन पर वीसी को सारे मामले के बारे में बताया। वीसी ने छात्राओं से कहा कि वह केस दर्ज करवा दें।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
हरियाणा के सभी विधानसभा हलकों में खोले जाएंगे पार्टी कार्यलय हरियाणा के मुख्य सचिव ने निर्देश दिये हैं कि चुनाव से जुड़े किसी भी अधिकारी या कर्मचारी को पहली सितम्बर, 2018 से फोटो मतदाता सूची के विशेष पुनर्रीक्षण का कार्य पूरा होने तक स्थानांतरित नहीं किया जाए। हरियाणा में चुनाव प्रक्रिया में निशक्तजनों की भागीदारी का निरीक्षण करने के लिए एक राज्य स्तरीय परामर्श समिति गठित की गई HARYANA-मोदी की मलोट रैली में भेजीं हरियाणा की 150 सरकारी बसें HARYANA-सवाल-सीएम कैसे लगते हैं, आवाज आई-‘अच्छे नहीं’ 55 गांवों के किसानों ने एसई कार्यालय को घेरा बोले, फ्लडी नहरों में मोगे लगाने में शर्तें मंजूर नहीं इनेलो विधायक के बाद कृष्ण पहलवान की करनी थी हत्या, दिचाउ गैंग के 4 बदमाश पकड़े कांग्रेस वर्किंग कमिटी की लिस्ट में हरियाणा के चार युवाओं को तवज्जो क्रिकेट मैच पर फंटरों को सट्टा खिलाने वाले बुकिज के खिलाफ देर रात सीआईए रेवाड़ी व धारूहेड़ी की टीम ने बड़ी कार्रवाई की हरियाणा सरकार ने निर्णय लिया है कि पांच जिलों के आंगनवाड़ी केन्द्रों में चल रही फोर्टिफाइड कोटनसीड और सोयाबीन तेल की पायलट आपूर्ति योजना को आगामी 1 सितम्बर, 2018 तक राज्य के सभी जिलों की सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों में शुरू कर दिया जाएगा