Thursday, December 13, 2018
Follow us on
Haryana

HARYANA-योजनाआें की निगरानी, सीएम की सिक्योरिटी ‘यंग ब्रिगेड’ के हवाले

May 20, 2018 05:19 AM

COURSTEY DAINIK TRIBUNE MAY 20

योजनाआें की निगरानी, सीएम की सिक्योरिटी ‘यंग ब्रिगेड’ के हवाले
दिनेश भारद्वाज/ट्रिन्यू
चंडीगढ़, 19 मई
खट्टर सरकार ने अपनी रणनीति में बड़ा बदलाव किया है। सूत्रों के मुताबिक पार्टी ने आगामी लोकसभा एवं विधानसभा चुनाव को देखते हुए अपनी ‘युवा ब्रिगेड’ को सक्रिय कर दिया है। पार्टी के युवा मोर्चा यानी भाजयुमो के पदाधिकारियों को विकास योजनाओं की मॉनिटरिंग के साथ-साथ सीएम की सिक्योरिटी का जिम्मा सौंपा गया है। अब सीएम के फील्ड दौरों के वक्त युवा मोर्चा के पदाधिकारी सक्रिय रहेंगे और संदिग्धों पर उनकी पैनी नजर रहेगी।
सीएम की घोषणाओं के अलावा केंद्र व राज्य सरकार की विकास योजनाओं की मॉनिटरिंग भी युवाओं को करने के लिए कहा गया है। इससे पहले भाजपा संगठन द्वारा लोकसभा एवं विधानसभा स्तर पर निगरानी कमेटियों का गठन किया हुआ है। युवा मोर्चा के पदाधिकारी इन कमेटियों से अलग काम करेंगे। वे विकास योजनाओं में होने वाली देरी और लापरवाही करने वाले अधिकारियों की रिपोर्ट सीधे सीएमओ को करेंगे। बताया गया है कि हिसार में एक युवक द्वारा सीएम के ऊपर काला तेल फेंकने की घटना के बाद सीएम ने चंडीगढ़ पहुंचते ही युवा मोर्चा के सभी 22 जिलाध्यक्षों व प्रदेश पदाधिकारियों की अहम बैठक ली। इसी बैठक में युवाओं को यह जिम्मा सौंपा गया।
देंगे नियमित रिपोर्ट
भाजपा युवा मोर्चा जिलाध्यक्षों को जिलों में चल रहे विकास कार्यों की नियमित रिपोर्ट भेजने को कहा गया है। ये पदाधिकारी अपनी रिपोर्ट में विकास कार्यों में होने वाली देरी के साथ-साथ इसके लिए जिम्मेदार अधिकारियों की रिपोर्ट भी सीएम को भेजेंगे।
सीएम को देंगे सुझाव
जानकारी के अनुसार युवा मोर्चा के पदाधिकारियों से सीएम ने विकास योजनाओं के बारे में सुझाव भी मांगे हैं। इसी तर्ज पर सीएम विधानसभा क्षेत्रवार पार्टी पदाधिकारियों व विधायकों की बैठकें करके उनसे भी विकास योजनाओं बारे रिपोर्ट ले चुके हैं।
रोड शो में भीड़ देख खट्टर बोले, जनता ने हमारे कामों पर मुहर लगाई
विनोद जिंदल/हप्र
कुरुक्षेत्र, 19 मई

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने रोड शो शुरू करने से पूर्व थीम पार्क में उमड़ी भीड़ को देखकर कहा कि यह भीड़ साफ बता रही है कि प्रदेश की जनता ने उनकी सरकार के साढ़े तीन साल में किए गए विकास कार्यों और जनता की भलाई और सेवा के कामों पर मुहर लगा दी है। उन्होंने थानेसर के विधायक सुभाष सुधा की प्रशंसा करते हुए उन्हें लोकप्रिय विधायक बताया। उन्होंने कहा कि वे छठी पातशाही गुरद्वारा में माथा टेक कर आए हैं और आज ही उनका छठा रोड शो भी है। विकास कार्यों का कारवां जारी रहेगा।
इस अवसर पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण बेदी, खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री कर्णदेव काम्बोज, विधायक डॉ. पवन सैनी, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन, ओएसडी अमरिंद्र सिंह, भाजपा कुरुक्षेत्र की प्रभारी बंतो कटारिया, जिला प्रधान धर्मवीर मिर्जापुर, जिला परिषद के चेयरमैन गुरदयाल सिंह सुनहेड़ी, नगर परिषद की अध्यक्ष उमा सुधा व अन्य भी मौजूद रहे। वहीं मुख्यमंत्री मनोहर लाल रविवार को कुरुक्षेत्र में राहगीरी कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।
कांग्रेसियों ने की नारेबाजी
रोड शो के दौरान पुराने बस अड्डे के थोड़ा आगे जैसे ही मुख्यमंत्री का वाहन पहुंचने को हुआ तो अचानक एक महिला और कुछ लोग सड़क पर आ गए और मुख्यमंत्री विरोधी तथा कांग्रेस के पक्ष में नारे लगाने शुरू कर दिए। रोड शो के साथ चल रहे कार्यकर्ताओं ने काले झंडे लिए कांग्रेस कार्यकर्ताओं को देखा तो उन्हें दबोच लिया। इसके बाद पुलिस ने महिला समेत अन्य कांग्रेसी वर्करों को वाहन में डाला और थाने ले गए।
अपने वेतन से चुकाता हूं रसोई और दवाओं का खर्च
चंडीगढ़ (ट्रिन्यू): मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि वे अपनी रसोई का खर्च और अपनी दवाई का खर्च स्वयं अपने वेतन से अदा करते हैं। उन्होंने कहा कि उनकी रसोई का खर्च चाहे 10 हजार हो, 15 हजार हो या 20 हजार हो, उसका चेक उनके वेतन से काटा जाता है। इसी प्रकार, उनकी दवाई का खर्च भी, चाहे वो दो हजार हो या तीन हजार रुपए हो, उसका खर्च भी उनके वेतन से अदा किया जाता है। शनिवार को चंडीगढ़ में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान सीएम ने कहा, मैंने कभी भी मुख्यमंत्री आवास पर अनाप-शनाप खर्चे नहीं करवाए। उन्होंने कहा, सीएम आवास पर बिस्कुट-नमकीन व मिठाई सप्लाई करने वाले ने कहा कि मेरा नुकसान हो रहा है। पहले तो सात-आठ लाख रुपए का बिल बनता था परंतु अब केवल 20 से 25 हजार रुपए का ही बिल बनता है। उन्होंने कहा कि जब कोई व्यक्ति बहुत ही आग्रह पर भी नहीं मानता है और जब उन्हें लगता है तो उसे वे अपने एक महीने का वेतन दे देते हैं।
प्रदेश स्तर पर बनेगा ‘खबरची सैल’
भाजपा ने प्रदेश स्तर पर एक ‘खबरची सैल’ भी गठित किया हुआ है। सीएम आने वाले दिनों में इसकी भी बैठक लेंगे। खबरची सैल सोशल मीडिया पर नज़रें बनाए रखेगा। फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सएप आदि पर होने वाले नेगेटिव प्रचार को रोकने और विपक्ष के हमलों का जवाब देने का जिम्मा इन्हें सौंपा गया है। खबरची सैल ने जिलावार व्हाट्सएप ग्रुप भी बनाए हुए हैं। इस मीटिंग में सीएम ने पदाधिकारियों से कहा है कि वे सुनिश्चित करें कि प्रदेश का एक भी गांव बिना श्मशानघाट और कब्रिस्तान के न रहे। इन जगहों पर सरकार की ओर से चारदीवारी, पेयजल, शैड आदि का प्रबंध किया जाएगा। जस्टिस ढींगरा आयोग की रिपोर्ट को सार्वजनिक करने बारे में सीएम ने कहा, सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट को दो महीने का समय दिया है। यह अवधि आने वाले आठ-दस दिन में पूरा होने वाली है। संभव है शीघ्र ही हाईकोर्ट फैसला कर देगा और रिपोर्ट को सार्वजनिक कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य में पांच से अधिक छात्राओं को शैक्षणिक संस्थानों से लाने व ले जाने के लिए छात्रा परिवहन सुरक्षा योजना शुरू की जाएगी।
विधायक बाजीगर से मिलने पहुंचे खट्टर
गुहला चीका (निस): मुख्यमंत्री मनोहर लाल शनिवार को विधायक कुलवंत बाजीगर से मिलने उनके घर पहुंचे। इस दौरान उनके सामने टूटी सड़कों का मसला उठाया गया तो उन्होंने कहा कि शिकायत मिली तो विजिलेंस जांच करवाएंगे। उन्होंने कहा कि हमने पूर्व कांग्रेस सरकार के समय में प्रचलित हुए क्षेत्रवाद शब्द को पूरी तरह विदा कर दिया है। अब प्रदेश के सभी 90 के 90 हलकों में समान भाव से विकास हो रहा है।

Have something to say? Post your comment