Monday, September 24, 2018
Follow us on
Haryana

HARYANA-विधायकों को इस टूअर पर ले जाने का हो रहा विरोध, पार्षद रविकांत ने कहा-जिनको टेक्नीकल नॉलेज उन्हीं को ले जाना चाहिए

April 20, 2018 06:27 AM

COURSTEY DAINIK BHASKAR APRIL 20

विधायकों को इस टूअर पर ले जाने का हो रहा विरोध, पार्षद रविकांत ने कहा-जिनको टेक्नीकल नॉलेज उन्हीं को ले जाना चाहिए

सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्रोजेक्ट के लिए स्टडी टूअर...

संजीव रामपाल | पंचकूला

पंचकूला नगर निगम का एक प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को स्टडी टूअर के लिए हैदराबाद जाएगा। हैदराबाद में ये टीम वहां के सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट को देखेगी। हैदराबाद में लगे सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट में कचरे के निपटारे के दौरान बिल्कुल बदबू नहीं आती है। इससे नजदीक एरिया में रह रहे लोगों को परेशानी नहीं होती है। निगम की ये टीम रविवार की शाम को हैदराबाद से वापस लौटेगी। पंचकूला नगर निगम ने पहली बार स्टडी टूअर प्लान किया है। नगर निगम का पौने पांच साल का कार्यकाल पूरा हो चुका है। केवल दो महीने का कार्यकाल शेष बचा है। वर्तमान पार्षदों के कार्यकाल में समाप्ति पर पहली बार निगम की ओर से स्टडी टूअर प्लान किया गया है।
दो विधायक, 3 निगम अफसर समेत 12 लोग जाएंगे हैदराबाद
ज्ञानचंद गुप्ता
पंचकूला के विधायक
लतिका शर्मा
कालका की एमएलए
एसएस नंदा सीनियर डिप्टी मेयर
सुनील तलवार
डिप्टी मेयर
राजेश जोगपाल
निगम कमिश्नर
एलसी चौहान
एग्जिक्यूटिव इंजीनियर
जरनैल सिंह
एग्जिक्यूटिव अफसर
प्रियंका चौहान
स्वच्छ भारत मिशन की सिटी टीम लीडर
ये लोग भी जाएंगे हैदराबाद... रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशनों से संत सिंह गिल, सतपाल कोरपाल, मूलचंद यादव और बलवान सिंह।
झुरीवाला में लगेगा सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट...
निगम की जल्द ही शहर में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्रोजेक्ट लगाने की योजना है। रोजाना 200 टन सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट का यह प्रोजेक्ट झुरीवाला में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप में लगेगा। इस पर करीब 65 करोड़ खर्च आएगा। पंचकूला नगर निगम की हाउस मीटिंग में यह प्रोजेक्ट लगाने के प्रस्ताव को पहले ही मंजूरी दी जा चुकी है। दो महीने पहले हुई निगम की हाउस मीटिंग में पार्षदों के लिए स्टडी टूर के प्लान को भी मंजूरी दी गई थी। प्रोजेक्ट में कचरे से खाद भी तैयार की जाएगी जिसे बेचकर निगम कमाई कर सकेगा।
विधायक को ले जाना समझ से परे: रविकांत स्वामी
पार्षद रविकांत स्वामी ने कहा कि सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट अफसरों ने बनवाना है ना कि एमएलए ने। एमएलए को स्टडी टूअर पर ले जाने का औचित्य समझ से परे हैं। निगम अफसरों को चाटूकारिता के बजाय शहर की डेवलपमेंट की तरफ ध्यान देना चाहिए। स्टडी टूअर पर केवल सिविल इंजीनियर्स को ले जाना चाहिए था जोकि वहां जाकर प्रोजेक्ट को समझते और यहां आकर इसे बनवाते।
यह स्टडी टूअर जाने से पहले ही विवादों में...
स्टडी टूअर ले जाने की किसी ने भी मुझे कोई जानकारी नहीं दी हैं। टूअर के लिए हैदराबाद जाने के बारे में पूछा तक नहीं। -लिली बावा, पार्षद
स्टडी टूअर पर जाने के लिए मुझसे पूछा गया था, लेकिन मैंने हैदराबाद जाने से मना कर दिया। मैं मानती हूं कि मुझे सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट के बारे में कोई टेक्निकल नॉलेज नहीं है। वहां केवल टेक्निकल अफसरों को ही जाना चाहिए जोकि उस प्रोजेक्ट को देखकर समझ सके और वापस लौटकर उसे शहर में लागू कर सके। -उपिंदर आहलुवालिया, मेयर

Have something to say? Post your comment