Tuesday, October 16, 2018
Follow us on
Haryana

प्रदेश में 14 हजार तालाब हैं और इन तालाबों को तीन श्रेणियों मेंं बांटा गया है तथा हर तालाब की जरूरत के अनुसार उसका विकास करवाया जाएगा:मनोहर लाल

April 16, 2018 05:04 PM
हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में 14 हजार तालाब हैं और इन तालाबों को तीन श्रेणियों मेंं बांटा गया है तथा हर तालाब की जरूरत के अनुसार उसका विकास करवाया जाएगा।
यह जानकारी आज उन्होंने पानीपत के गांव सिवाह में 17 करोड़ रुपए की लागत से बनाए जाने वाले नए सामान्य व सिटी बस स्टेण्ड और वर्कशाप की आधारखिला रखने के उपरांत जनसभा को संबोधित करते हुए की। उन्होंने कहा कि जल ही जीवन है। जल को संरक्षण प्रदान करने, प्रदेश में स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए हरियाणा तालाब प्राधिकरण का गठन करके सरकार ने एक ऐतिहासिक निर्णय लिया है। इसके अलावा हरियाणा प्रदेश में जितने भी शमसान घाट अथवा कब्रिस्तान हैं, उन सभी की चारदिवारी करवाना और उस तक जाने का रास्ता पक्का करवाने के लिए शिवधाम नवीनीकरण योजना भी लागू की है। 
उन्होंने कहा कि प्रदेश में इस समय केन्द्र व प्रदेश सरकार की कुल 220 ऐसी योजनाएं हैं। जिनका लाभ जनता के सभी वर्ग उठा सकते हैं। लेकिन जानकारी के अभाव में इन योजनाओं का पूरा लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा है। इस समस्या के समाधान के लिए प्रदेश के सभी 22 जिलों में अंतोदय सेवा केन्द्र स्थापित किए जाएंगे। प्रदेश के सात जिलों में अंतोदय सेवा केन्द्र शीघ्र ही बनकर तैयार हो जाएंगे। इन सभी सेवा केन्द्रों में इन 220 कल्याणकारी योजनाओं का लाभ ऑनलाईन के माध्यक से लोगों को दिया जाएगा। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा सरकार ने भय, भ्रष्टाचार मुक्त पारदर्शी प्रशासन देने का भरपूर प्रयास किये है। सरकारी कार्यालयों में अब भीड़ कहीं भी नजर नहीं आती। सरकार ने प्रदेश से दलाल संस्कृति को पूरी तरह से खत्म कर दिया है। लोगों की सभी सुख-सुविधाएं ई-दिशा केन्द्र व सीएससी सेवा केन्द्रों के माध्यम से दी जा रही है। यही नहीं, सरकार ने शिक्षा विभाग में नई तबादला नीति लागू करके अध्यापक की इच्छा के अनुसार स्कूलों में लगाया है, जिससे 93 प्रतिशत अध्यापक पूरी तरह से  संतुष्ट हैं और उनकी कार्यशैली में भी सुधार आया है। यही नहीं, पानीपत के वस्त्र उद्योग में देश के सभी प्रदेशों के लोग रोजगार प्राप्त करते हैं। पानीपत जैसे सभी शहरों के उद्योगों को बेहतर व कुशल कारीगर व तकनीकी कर्मचारी उपलब्ध करवाने के लिए हरियाणा सरकार ने पलवल में कौशल विकास विश्वविद्यालय बनाया है। इस विश्वविद्यालय से एक लाख सोलह हजार नवयुवकों ने प्रशिक्षण प्राप्त करके देश के विभिन्न स्थानों पर रोजगार प्राप्त किया है। 
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा प्रदेश के जिन शिक्षित नवयुवकों ने रोजगार कार्यालयों में अपने नाम दर्ज करवा रखे हैं, उन्हें सरकार ने विभिन्न सरकारी विभागों में सक्षम के रूप में रोजगार दिया है। इन नवयुवकों को प्रति महीने 100 घण्टें काम के बदले 9 हजार रूपये दिए जाते हैं ताकि वे भी सम्मानपूर्वक अपना गुजर बसर कर सकें। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार सभी वर्गों के हितों के लिए समर्पित है। सरकार ने किसान-मजदूरों के कल्याण के लिए भी अनेक योजनाएं लागू की हैं और एसवाईएल नहर का पानी भी हरियाणा के किसानों को जरूर दिलवाया जाएगा। 
इस मौके पर परिवहन मंत्री कृष्णलाल पंवार, सांसद अश्वनी चौपड़ा, विधायक महीपाल ढांडा, शहरी विधायक रोहिता रेवड़ी, समालखा के विधायक रविन्द्र मच्छरौली, जिला भाजपा अध्यक्ष प्रमोद विज, पूर्व जिला अध्यक्ष गजेन्द्र सलूजा मौजूद थे।
Have something to say? Post your comment