Wednesday, November 21, 2018
Follow us on
Haryana

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज रोहतक में राज्य के व्यापारियों को विभिन्न सौगातों के तोहफे दिए

April 08, 2018 04:59 PM

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज रोहतक में राज्य के व्यापारियों को विभिन्न सौगातों के तोहफे दिए, जिनमें मुख्यमंत्री ने दुर्घटना में मृत्यु होने की स्थिति में व्यापारियों को 5 लाख रुपये के बीमे की सुविधा, व्यापारी कल्याण बोर्ड की समितियां बनाने, व्यापारियों को होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए उनके स्टॉक व भवन के अनुरूप 5 से 25 लाख तक की क्षतिपूर्ति योजना, व्यापारियों को 20 प्रतिशत कम कलेक्टर रेट पर दुकानों को अपने नाम करवाने की सुविधा, व्यापारियों को 20 साल पुराने वैध कब्जों को आज के रेट के आधार पर अपने नाम रजिस्ट्री करवाने की सुविधा, मंडियों में व्यापारियों की सुरक्षा के मद्देनजर सीसीटीवी कैमरे लगवाने, टेंट व्यापारियों की शहरों में एंट्री संबंधी समस्या का समाधान जिला समितियों के माध्यम से करवाने की घोषणाएं की। 

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल आज रोहतक में आयोजित विराट व्यापारी सम्मेलन को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि दुर्घटना में मृत्यु होने की स्थिति में व्यापारियों को 5 लाख रुपये के बीमे की सुविधा प्रदान की जाएगी और इसका प्रीमियम व्यापारी कल्याण बोर्ड व प्रदेश सरकार द्वारा संयुक्त रूप से वहन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हरियाणा व्यापारी कल्याण बोर्ड में पंजीकरण करवाने वाले सभी व्यापारियों को इसका लाभ मिलेगा और बीमे का प्रीमियम भी व्यापारी कल्याण बोर्ड व प्रदेश सरकार द्वारा आधा-आधा वहन किया जाएगा।  इसके अलावा, मु यमंत्री ने घोषणा की कि व्यापारियों की सुविधाओं और उनकी समस्याओं के त्वरित समाधान के लिए जिला स्तर पर भी व्यापारी कल्याण बोर्ड की समितियां बनाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि व्यापारियों को होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए उनके स्टॉक व भवन के अनुरूप 5 से 25 लाख तक की क्षतिपूर्ति योजना बनाई जाएगी। इसके लिए बीमा कंपनियों से बात की जाएगी जिसका प्रीमियम भी व्यापारी कल्याण बोर्ड व सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।       
  उन्होंने व्यापारियों को 20 प्रतिशत कम कलेक्टर रेट पर दुकानों को अपने नाम करवाने की सुविधा देने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि व्यापारियों को 20 साल पुराने वैध कब्जों को आज के रेट के आधार पर अपने नाम रजिस्ट्री करवाने की सुविधा भी सरकार देगी। व्यापारी कल्याण बोर्ड की मांग पर मु यमंत्री ने प्रदेश के सभी जिलों के बाजारों तथा मंडियों में व्यापारियों की सुरक्षा के मद्देनजर सीसीटीवी कैमरे लगवाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि बाजारों में शहरी स्थानीय निकाय तथा मंडियों में मार्केटिंग बोर्ड द्वारा सीसीटीवी लगवाने का कार्य करवाया जाएगा। इसी प्रकार टेंट व्यापारियों की शहरों में एंट्री संबंधी समस्या का समाधान जिला समितियों के माध्यम से करवाया जाएगा।   मु यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि व्यापारियों को जोखिम मुक्त माहौल प्रदान करने की दिशा में गंभीर प्रयास किए जा रहे हैं।  
जीएसटी कम करने की मांगों के संबंध में उन्होंने व्यापारियों को भरोसा दिलाया कि वे उनकी सभी मांगें जीएसटी काउंसिल को भेज देंगे जो इस संबंध में निर्णय लेने वाली अखिल भारतीय संस्था है। इसी प्रकार, वाहनों की वहन क्षमता को बढ़ाने की मांग को भी उन्होंने केंद्र सरकार के पास भिजवाने का आश्वासन दिलाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे भी आपकी तरह 8 साल तक व्यापार करने का अनुभव रहा है जिसके चलते मैं व्यापारियों की समस्याओं को समझता हूं। अनेक पुराने मसलों को एक बार में ही खत्म करने के लिए प्रदेश सरकार वन टाइम स्कीम के अंतर्गत प्रदेशवासियों को बड़ी राहत देगी। प्रदेश में व्यापारियों को स्वच्छ व डर रहित माहौल देने का काम हमने किया है। पूर्व की सरकारों में व्यापारियों से फिरौतियां मांगी जाती थीं, उन्हें डराया-धमकाया जाता था और जेलों से उनके लिए आदेश आते थे। इन सब अपराधियों को सरकार में बैठे व्यक्तियों का संरक्षण प्राप्त होता था। हमने व्यापार व उद्योग फले-फुले, ऐसा वातावरण व्यापारियों को दिया है।
उन्होंने कहा कि व्यापारियों की सुविधा के लिए तथा उन्हें इंस्पेक्टरी राज से मुक्ति दिलाने के लिए पिछले साढ़े तीन साल में अनेक कार्य किए गए हैं। अनेक व्यवस्थाओं को ऑनलाइन किया गया है। ई-टेंडरिंग व ई-असेसमेंट की सुविधा के अलावा व्यापारी ऑनलाइन अपील भी कर सकते हैं और उन्हें कार्यालयोंं के चक्कर काटने से निजात दिलवाई गई है। उन्होंने कहा कि व्यापारियों को सुविधाएं देने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा आयोजित किया जाने वाला यह दूसरा सम्मेलन है जबकि इससे पहले शायद ही किसी सरकार ने व्यापारियों की मांगों पर विचार के लिए ऐसे स मेलन किए हों। उन्होंने व्यापारियों को देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ की हड्डी बताते हुए इन्हें सरकार के लिए टैक्स संग्रह करने वाला महत्वपूर्ण स्रोत बताया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा को देश का मॉडल राज्य बनाया जाएगा जिसके लिए उन्होंने व्यापारियों से सहयोग का आह्वान किया। उन्होंने बताया कि 2014 में जब भाजपा ने सत्ता संभाली थी तो प्रदेश ईज ऑफ डूइंग (उद्योग-धंधों की स्थापना में सहुलियतें देने के मामलों) में 14वें स्थान था जो 2016 में छठे स्थान पर पहुंचा। इस समय अप्रैल में फिर से इसकी रैंकिंग का कार्य चल रहा है जिसमें हम दूसरे स्थान पर पहुंच चुके हैं और जल्द ही हमारी नीतियों के चलते हम इस मामले में देश में पहले नंबर पर होंगे।
उन्होंने कहा कि हमारी सरकार बीबीसी (बदली, भरती और सीएलयू) की सरकार नहीं है बल्कि सबका साथ-सबका विकास तथा हरियाणा एक-हरियाणवी एक की भावना के साथ पूरे प्रदेश का समान विकास करने वाली सरकार है। वर्तमान सरकार ने हरियाणा को देश का पहला कैरोसिन मुक्त राज्य बनाया है। प्रदेश के हर घर में उज्ज्वला योजना के तहत गैस सिलेंडर पहुंचाया गया है। सरकार ने पारदर्शी तबादला नीति लागू करके भ्रष्टाचार पर प्रहार किया है। उन्होंने जिक्र किया कि अभी हाल ही में भर्तियों के लिए पैसे लेने वाले एक बड़े गिरोह को पकड़ा गया है जिसे हमने जेल की सलाखों के पीछे भिजवाने का काम किया है। भ्रष्टाचार प्रदेश के किसी भी कोने में हो, हम उसे निकाल बाहर करेंगे।
सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने वर्तमान सरकार को व्यापारी, किसान और मजदूर की हितैषी सरकार बताया जिनके सामूहिक प्रयासों से ही देश आगे बढ़ता है। उन्होंने कहा कि व्यापारी वर्ग हर वर्ग का भला चाहता है और हमेशा यही दुआ करता है कि किसान खुशहाल बने। समाज की उन्नति में ही अपनी उन्नति देखने वाले व्यापारी वर्ग की भलाई के लिए प्रदेश सरकार दिन-रात काम कर रही है। प्रदेश में व्यापार के लिए स्वस्थ माहौल बनाने के लिए उन्होंने प्रदेश सरकार के प्रयासों की खुलकर सराहना की।
शिक्षामंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा ने रोहतक को अपनी कर्मभूमि बताते हुए बताया कि इसी धरती पर प्रदेश का शांतिपूर्ण वातावरण व आपसी भाईचारा खराब करने का षड्यंत्र रचा गया था जिसमें वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु का घर भी जल गया था। लेकिन प्रदेश सरकार ने तत्परता दिखाते हुए उपद्रवियों द्वारा जलाई गई 2476 दुकानों के मालिकों को एक माह के भीतर 102 करोड़ रुपये का मुआवजा वितरित किया और उनके जख्मों पर मरहम लगाया। उन्होंने कहा कि व्यापारी वर्ग ग्रामीण क्षेत्र व किसान वर्ग के साथ-साथ समाज व धर्म की भलाई में लगा रहता है और भाजपा इनकी भलाई में लगी हुई है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार पहली ऐसी सरकार है जिसने प्रदेश में सरसों की सरकारी खरीद शुरू करवाई है। उन्होंने कहा कि यह सरकार हर दुख-दर्द में 24 घंटे व्यापारियों के साथ खड़ी है।
        वित्त एवं राजस्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि इतिहास में इतना बड़ा व्यापारी सम्मेलन आज तक किसी सरकार द्वारा आयोजित नहीं किया गया जबकि वर्तमान सरकार द्वारा यह दूसरा सम्मेलन है। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों में व्यापारियों के प्रतिष्ठानों पर बुरी नजर रखी जाती थीं, उन्हें डराया-धमकाया जाता था और उनसे फिरौतियां वसूली जाती थीं। पूर्व में सरकार चलाने वाले रहनुमाओं ने ही अपनी सरकार न बनने के दुख में व्यापारियों पर जुल्म ढाया और उनकी दुकानें जला दी गई अथवा लूट ली गई। लेकिन वर्तमान सरकार आने के बाद व्यापारी भयमुक्त होकर अपना कारोबार कर रहे हैं।
शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन ने कहा कि मैं रोहतक की बेटी हूं और व्यापारी परिवार में जन्मी हूं। इस नाते रोहतक में आयोजित व्यापारियों के इस सम्मेलन के लिए सभी को बधाई देती हूं। उन्होंने कहा कि व्यापारी वर्ग सदियों से देश-प्रदेश को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता आया है। वह अर्थव्यवस्था का अहम हिस्सा रहा है जिसने महाराज अग्रसेन के सिद्धांत को आगे बढ़ाते हुए हमेशा समाजवाद को मजबूत किया है। देशहित में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कड़े फैसलों में भी व्यापारी खुश होकर सहयोग करते हैं और अपनी राष्ट्रप्रेम की भावना का परिचय देते हैं। व्यापारियों के हितों के लिए पूर्ववर्ती सरकारों के समक्ष भी व्यापारी कल्याण बोर्ड के गठन की मांग समय-समय पर रखी गई लेकिन इसे पूरा करने का कार्य वर्तमान सरकार द्वारा ही किया गया। उन्होंने सरकार द्वारा व्यापारियों के हित में शुरू की गई अनेक योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। 
उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने सफल आयोजन की बधाई देते हुए रोहतक की भूमि को समरसता का प्रतीक बताया। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार व्यापारियों के हितों पर पूरी तरह से खरी उतरी है।
सहकारिता राज्यमंत्री व सम्मेलन के आयोजक मनीष ग्रोवर ने कहा कि जिस प्रकार मुख्यमंत्री के सम्मान में पूरे प्रदेश के व्यापारी यहां आए हैं, उसी प्रकार मुख्यमंत्री भी व्यापारियों के हितों में निर्णय लेने से कभी कोर-कसर नहीं छोड़ते हैं। उन्होंने कहा कि व्यापारियों के हितों के लिए ही मुख्यमंत्री ने हरियाणा व्यापारी कल्याण बोर्ड का गठन किया है। ऐसा कार्य आज तक कोई सरकार नहीं कर सकी। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने प्रदेश से बदमाशों को खत्म करते हुए गुंडाराज व भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने का काम किया है।
व्यापारी कल्याण बोर्ड के चेयरमैन गोपालशरण गर्ग ने मुख्यमंत्री व अन्य मंत्रियों का स्वागत करते हुए व्यापारियों की ओर से मांगपत्र पढ़ा। उन्होंने कहा कि देश को आजाद हुए 70 साल हो चुके हैं लेकिन आज तक किसी सरकार ने व्यापारियों की सुध नहीं ली। वर्तमान सरकार ने अपने साढ़े तीन साल में ही व्यापारियों की भलाई के लिए अनेक फैसले लिए हैं। व्यापारियों व सरकार के बीच कड़ी के रूप में हरियाणा व्यापारी कल्याण बोर्ड का गठन किया गया है जो एक सराहनीय कदम है। उन्होंने कैबिनेट के अधिकतर मंत्रियों के साथ सम्मेलन में आने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल का विशेष रूप से आभार व्यक्त किया।
 सम्मेलन को संबोधित करते हुए परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार ने कहा कि अपनी मांगों व समस्याओं के लिए सडक़ों पर उतरने पर पूर्ववर्ती सरकारों द्वारा व्यापारियों पर लाठीचार्ज किया जाता था लेकिन वर्तमान सरकार के कार्यकाल में ऐसा एक भी मामला सामने नहीं आया है। व्यापारियों व उद्योगपतियों की सुविधा के लिए एक सप्ताह के भीतर बिजली कनेक्शन मिलता है और उनके हित सरकार के हाथों में पूरी तरह से सुरक्षित हैं।
      व्यापारी सम्मेलन को श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री नायब सिंह सैनी, सांसद रमेश कौशिक, रेवाड़ी विधायक रणधीर सिंह कापड़ीवास तथा लाडवा विधायक पवन सैनी सहित अनेक गणमान्य व्यक्तियों ने भी संबोधित किया। सम्मेलन के दौरान हरियाणा व्यापारी कल्याण बोर्ड, प्रदेश भर के विभिन्न व्यापार मंडलों, संघों व एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री को स्मृति चिह्न भेंट कर सम्मानित किया व उनका आभार जताया।
     इस अवसर पर भाजपा के संगठन मंत्री सुरेश भट्ट, विधायक लतिका शर्मा, हिसार विधायक डॉ. कमल गुप्ता, बहादुरगढ़ विधायक नरेश कौशिक, कुलवंत बाजीगर, घनश्याम सर्राफ, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन, व्यापारी कल्याण बोर्ड सदस्य रवि सैनी, सतीश जोशी, प्रदेश महासचिव संजय भाटिया, गौसेवा आयोग के चेयरमैन भानीराम मंगला, गुलशन भाटिया, रत्नेश बंसल, अरुण सर्राफ, जोगेंद्र वर्मा सहित बड़ी संख्या में गणमान्य व्यक्ति व व्यापारी उपस्थित थे।
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
पुलिस विभाग के स्पैशल पुलिस अफसरों की तनख्वाह होम गार्ड से भी कम हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से श्री सतिन्द्र सिवाच, संयुक्त आयुक्त, नगर निगम अम्बाला को नगर निगम, अम्बाला के आयुक्त का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा वेयरहाउसिंग जैसी निगमों को अपना कारोबार अधिक से अधिक बढ़ाना चाहिए :मनोहर लाल
बी0 एस0 सन्धू ने कनीना के उप-पुलिस अधीक्षक श्री विनोद कुमार के दुखद निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया
अम्बाला की नन्ही वैदेही ने दुबई में जीता रजत पदक
केजरीवाल के दोबारा दौरे की आहट से प्रशासन में खलबली चौटाला परिवार के करीबी डॉक्टर समेत 3 चिकित्सक हुए सस्पेंड India may Get its First Woman CEA Kejriwal to visit martyr’s village’ Ajay Chautala’s party to fight assembly, Lok Sabha elections