Thursday, July 19, 2018
Follow us on
Haryana

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने प्रदेश में चौकीदारों का वेतन किया दोगुना, अगले 3 महीने में साईकिल भी दी जाएगी

April 02, 2018 05:56 PM

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने प्रदेश में चौकीदारों को एक बड़ा तोहफा देते हुए आज उनके मासिक भत्ते को बढ़ाकर दुगना करने की घोषणा की। चौकीदारों को मिल रहा 3500 रुपये का भत्ता अब बढक़र सात हजार रुपये मासिक हो गया है और यह भत्ता पहली अप्रैल, 2018 से लागू हो गया है। इसके अतिरिक्त चौकीदारों को अब वर्दी के लिए 2 हजार रुपये की बजाए 2500 रुपये प्राप्त होंगे तथा उन्हें लाठी, बैट्री, सिटी और छाते के लिए भी एक हजार रुपये की राशि मिलेगी, जबकि इससे पूर्व यह राशि 750 रुपये थी। मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की  कि गांव के प्रहरी चौकीदारों को तीन महीने के भीतर साईकिल उपलब्ध करवा दी जाएंगी। 

मुख्यमंत्री आज महाबीर स्टेडियम, हिसार में आयोजित एक विशाल राज्य स्तरीय चौकीदार सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। भत्तों में दुगनी वृद्धि होने की घोषणा के साथ ही चौकीदारों में खुशी की लहर दौड़ गई और उन्होंने उत्साह से भरकर मुख्यमंत्री जिंदाबाद के नारे लगाए। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने ही चौकीदारों की सेवानिवृति की आयु 60 वर्ष से बढाकर 65 वर्ष की है, ताकि स्वस्थ चौकीदार गांव को अपनी और अधिक सेवाएं प्रदान कर सकें। उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 से 2017 के बीच जिन चौकीदारों को हटा दिया गया था, लेकिन फिर भी वे इस अवधि के दौरान अपनी सेवाएं प्रदान करते रहे, उन्होंने इस अवधि के लिए पूरा वेतन दिया जाएगा।  इस फैसले से प्रदेश के लगभग 150 से 200 चौकीदार लाभांवित होंगे। 
  चौकीदारों को गांव का एक सजग प्रहरी बताते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार हमेशा उनके कल्याण के बारे में चिंतित रही है। चौकीदार गांव का पहला नागरिक होता है, जो गांव में घटने वाली घटनाओं की जानकारी प्रदान करता है। इसके अलावा वे असामाजिक तत्वों द्वारा समाज में गुप्त रूप से किए जा रहे अपराधों की जानकारी भी पुलिस को प्रदान करते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस प्रकार गृहणी घर में अपने चौके की संभाल रखती है, उसी प्रकार चौकीदार गांव की चौकी का रखवाला होता है। गांव की सुरक्षा व सूचनाओं के आदान-प्रदान में उनकी भूमिका महत्वपूर्ण होती है। राज्य सरकार चौकीदारों के पुरातन गौरव व रूतबे को फिर से कायम करेगी। 
उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार अंतोदय की भावना से कार्य करती है। वह पंडित दीन दयाल उपाध्याय के सिद्धांत पर चलते हुए अंतिम पंक्ति के व्यक्ति का उत्थान करने पर अपना ध्यान केंद्रित करती है। प्रदेश के चौकीदार अंतिम पंक्ति के व्यक्ति हैं, इसलिए चौकीदारों का कल्याण करना हरियाणा सरकार की प्राथमिकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आप गांव के चौकीदार हैं और मैं भी मुख्यमंत्री के रूप में प्रदेश का चौकीदार हूं। इसलिए मैं आप लोगों को सचेत कर रहा हूं कि आप लोगों को बहकाने के लिए तरह-तरह के लोग आएंगे, लेकिन आप लोगों को किसी के बहकावे में नहीं आना है। इसलिए आपको भी परंपरागत नारे ‘जागते रहो-जागते रहो’ के समान जागते रहना है। उन्होंने कहा कि आपने देश, समाज व सरकार को भी जगाते रहना है। 
मुख्यमंत्री ने चौकीदारों का आह्वान किया कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश से भ्रष्टाचार रूपी कैंसर को समाप्त करने के लिए चलाए जा रहे अभियान में आप भी बढ़-चढक़र योगदान करें। पिछली सरकारों में आए दिन नये-नये घोटाले सामने आते थे। लेकिन हमने निश्चय किया है कि प्रदेश में इस तरह का पाप नहीं होने देंगे, जिसके परिणाम स्वरूप वर्तमान सरकार के कार्यकाल के दौरान प्रदेश मेें अब तक आपने ऐसे कोई घोटाले का नाम नहीं सुना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार प्रदेश के अढ़ाई करोड़ लोगों व समाज की सेवा करने को प्राथमिकता देती है।  खेत की बाड़ फसल की रक्षा करने के लिए लगाई जाती है। जब खेत की बाड़ ही खेत को खाने लगे तो ऐसी स्थिति में क्या होगा। लेकिन हमारी सरकार का कार्य खेत की रक्षा करना है और इसकी रक्षा को प्राथमिकता देना है। सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग करके प्रदेश में डेढ लाख फर्जी पैंशन प्राप्त लाभार्थियों की पहचान करके सरकार के करोड़ों रुपये की बचत की गई। इसके अतिरिक्त सरकारी व निजी स्कूलों में फर्जी दाखिले दिखाकर गलत लाभ उठाया जा रहा था, उस पर भी अंकुश लगाया गया है। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा शीघ्र ही चुतुर्थ श्रेणी के पदों पर भर्ती की जाएगी। चुतुर्थ श्रेणी के पदों की नौकरियों के लिए साक्षात्कार की प्रथा को समाप्त कर दिया गया है और अब इन पदों पर लिखित परीक्षा के आधार पर नियुक्तियां होगी। जिस परिवार में कोई भी व्यक्ति नौकरी पर नहीं है, उस व्यक्ति को पांच अंक अलग से दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि चौकीदारों में यदि दसवीं पास और 42 वर्ष तक की आयु का कोई व्यक्ति है, वह भी इन भर्तियों में आवेदन कर सकता है। 
वित्त एवं राजस्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि मुख्यमंत्री ने अंत्योदय के सिद्धांत के अनुरूप सदैव समाज में अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति की पहले चिंता की है। वे चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठकर भी खुद को राज्य का चौकीदार समझते हैं और प्रदेश की अढाई करोड़ जनता के हितों की रक्षा कर रहे हैं जो एक मिसाल है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने खुद को हर वर्ग के हितों का चौकीदार बताकर शासन व प्रशासन के तंत्र में एक नए आदर्श का बीज रोपित किया है। उन्होंने चौकीदारों से जागते रहने तथा सबको जगाते रहने का आह्वान किया।
कृषि, विकास एवं पंचायत मंत्री श्री ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा कि लाइन में सबसे अंत में खड़े व्यक्ति का सबसे पहले भला करना ही वर्तमान सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री जब अपने आप को चौकीदार के रूप में संबोधित करते हैं तो इस पद का गौरव अपने आप बढ़ जाता है। उन्होंने कहा ‘मैं गांव में रहा हूं और बचपन में चौकीदार द्वारा की जाने वाली मुनादी का गवाह रहा हूं। उस समय सूचना प्रदान करने के लिए गांव का लाउड स्पीकर चौकीदार ही होता था।’ उन्होंने चौकीदार को सर्वाधिक जिम्मेदार व्यक्ति बताते हुए उन्हें सरकार की आंख, नाक व कान बताया जो गांव के हर व्यक्ति के जन्म से लेकर मृत्यु तक का रिकॉर्ड रखता है।
परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार ने कहा कि मनोहर लाल प्रदेश के पहले ऐसे मुख्यमंत्री हैं जिन्होंने चौकीदारों को खुद बुलाकर उनका सम्मान किया है। आज से पहले किसी अन्य मुख्यमंत्री ने ऐसा नहीं किया। उन्होंने कहा कि चौकीदार किसी के बहकावे में आए बिना सरकार की कल्याणकारी नीतियों को घर-घर तक पहुंचाने का काम करें। उन्होंने चौकीदारों को सरकार का हिस्सा बताते हुए कहा कि उनका 5 लाख रुपये तक का निशुल्क इलाज सरकार करवाएगी। उन्होंने कहा कि 2022 तक ऐसा कोई ऐसा परिवार नहीं मिलेगा जिसका अपना मकान न हो। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति का बैकलॉग पूरा करने का काम वर्तमान मुख्यमंत्री करेंगे।
विधायक डॉ. कमल गुप्ता ने मुख्यमंत्री व अन्य अतिथियों का जिला में पहुंचने पर स्वागत करते हुए कहा कि प्रदेश का जितना विकास वर्तमान सरकार के कार्यकाल में हुआ है, उतना पहले कभी नहीं हुआ। उन्होंने चौकीदारों को समाज के भाईचारे को जोडऩे का प्रतीक बताते हुए उनसे समाज के विकास में सहयोग का आह्वान किया। हिसार मंडल आयुक्त राजीव रंजन ने प्रशासन की ओर से अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि यह कार्यक्रम विशेष रूप से राज्य के चौकीदारों के लिए किया गया है। उन्होंने चौकीदारों को सूचनाओं का आदान-प्रदान करने वाली महत्वपूर्ण कड़ी बताया।
इस अवसर पर डीजीपी बीएस संधू, उपायुक्त अशोक कुमार मीणा, मुख्यमंत्री के ओएसडी कैप्टन भूपेंद्र, हरियाणा हाउसिंग फेडरेशन के चेयरमैन जोगीराम सिहाग, हरियाणा वेयर हाउसिंग कॉरपोरेशन के चेयरमैन श्रीनिवास गोयल, अजय सिंधु, अतिरिक्त उपायुक्त एएस मान, भाजपा के प्रदेश सचिव कर्णसिंह रानौलिया, जिलाध्यक्ष सुरेंद्र पूनिया, जिला महामंत्री सुजीत कुमार, आशा रानी, प्रो. मनदीप मलिक, सत्यपाल श्योराण, जिला सचिव कृष्ण बिश्रोई, जिला सह मीडिया प्रभारी संदीप गंगवा, अनिल गोदारा, बाबूलाल अग्रवाल, सरजीत कालीरावणा सहित बड़ी संख्या में भाजपा पदाधिकारी, कार्यकर्ता व अधिकारी-कर्मचारी भी मौजूद थे।
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
हरियाणा के सभी विधानसभा हलकों में खोले जाएंगे पार्टी कार्यलय हरियाणा के मुख्य सचिव ने निर्देश दिये हैं कि चुनाव से जुड़े किसी भी अधिकारी या कर्मचारी को पहली सितम्बर, 2018 से फोटो मतदाता सूची के विशेष पुनर्रीक्षण का कार्य पूरा होने तक स्थानांतरित नहीं किया जाए। हरियाणा में चुनाव प्रक्रिया में निशक्तजनों की भागीदारी का निरीक्षण करने के लिए एक राज्य स्तरीय परामर्श समिति गठित की गई HARYANA-मोदी की मलोट रैली में भेजीं हरियाणा की 150 सरकारी बसें HARYANA-सवाल-सीएम कैसे लगते हैं, आवाज आई-‘अच्छे नहीं’ 55 गांवों के किसानों ने एसई कार्यालय को घेरा बोले, फ्लडी नहरों में मोगे लगाने में शर्तें मंजूर नहीं इनेलो विधायक के बाद कृष्ण पहलवान की करनी थी हत्या, दिचाउ गैंग के 4 बदमाश पकड़े कांग्रेस वर्किंग कमिटी की लिस्ट में हरियाणा के चार युवाओं को तवज्जो क्रिकेट मैच पर फंटरों को सट्टा खिलाने वाले बुकिज के खिलाफ देर रात सीआईए रेवाड़ी व धारूहेड़ी की टीम ने बड़ी कार्रवाई की हरियाणा सरकार ने निर्णय लिया है कि पांच जिलों के आंगनवाड़ी केन्द्रों में चल रही फोर्टिफाइड कोटनसीड और सोयाबीन तेल की पायलट आपूर्ति योजना को आगामी 1 सितम्बर, 2018 तक राज्य के सभी जिलों की सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों में शुरू कर दिया जाएगा