Thursday, November 15, 2018
Follow us on
Haryana

सीएम का गड्‌ढा मुक्त हरियाणा-अर्बन एस्टेट की 1.3 किलोमीटर लंबी मुख्य सड़क पर 260 से अधिक गड्ढे

March 22, 2018 06:29 AM

COURSTEY DAINIK BHASKAR MARCH 22

अर्बन एस्टेट की 1.3 किलोमीटर लंबी मुख्य सड़क पर 260 से अधिक गड्ढे

सीएम का गड्‌ढा
मुक्त हरियाणा

संजय योगी | जींद

सीएम मनोहर लाल खट्टर का गड्ढा मुक्त हरियाणा देखना है तो इसकी झलक जींद शहर में देखी जा सकती है। यहां सड़क पर हर पांच मीटर पर एक गड्ढा है। अर्बन एस्टेट की 1.3 किलोमीटर लंबी मुख्य सड़क पर 260 से अधिक गड्ढे हैं जो कभी हादसों का सबब बन सकते हैं।
दैनिक भास्कर की टीम ने बुधवार को गोहाना रोड पर चक्की मोड़ से डीएवी स्कूल के सामने से होती हुई सफीदों रोड से मिलने वाली अर्बन एस्टेट की मुख्य सड़क का निरीक्षक किया। इस 1.3 किलोमीटर लंबी सड़क पर 260 गड्ढे हैं। इस रोड पर अर्बन एस्टेट के साथ-साथ हाउसिंग बोर्ड काॅलोनी, विजय नगर व डिफेंस काॅलोनी भी पड़ती है जो शहर के पाॅश इलाके माने जाते हैं। अर्बन एस्टेट, डिफेंस काॅलोनी व हाउसिंग बोर्ड काॅलोनी की कोई ऐसी सड़क नहीं है जहां गड्ढे न बने हुए हों। यह गड्ढे एक साल से हैं लेकिन सड़क के लिए जिम्मेदार हुडा, नगर परिषद ने इन सड़कों का निर्माण करवाना तो दूर की बात आज तक पैच वर्क भी नहीं करवाया है। गौरतलब है कि खुद मुख्यमंत्री मनोहर लाल व पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर सिंह सड़कों को गड्ढा मुक्त करवाने की बात कह चुके हैं। बावजूद जींद का प्रशासन इन सड़कों की रिपेयर भी नहीं करवा पाया है।
एक साल से नहीं हुआ सड़कों का पैचवर्क, प्रशासन कर रहा है हादसे का इंतजार
हुडा और नगर परिषद से शहरवासी कर चुके हैं मांग पर नहीं हो रहा समाधान
जींद. अर्बन एस्टेट की टूटी सड़क।
ये रहे गड्ढों के पते...
एसपी आवास से हैबतपुर मोड़ : एक किलोमीटर में 150 गड्ढे
रुपया चौक से झांझ गेट होते हुए रामराय गेट : 2 किलोमीटर में 300 गड्ढे
पिंडारा फाटक से जेल तक : डेढ़ किलोमीटर में 100 गड्ढे
सफीदों रोड से अमरहेड़ी मोड़ तक : 2 किलोमीटर में 100 गड्ढे
भिवानी बाईपास चौक से डिवाइडर खत्म होने तक : एक किलोमीटर में 100 गड्ढे
नोट : 2008 के बाद किसी भी सेक्टर में सड़कों का निर्माण नहीं हुआ है और न ही इनका पैच वर्क किया है।
शाह के दौरे के दौरान डीसी ने दिए थे पैचवर्क के आदेश
15 फरवरी को जींद में अमित शाह की रैली को देखते हुए डीसी ने टूटी पड़ी सड़कों के पैचवर्क के आदेश दिए थे। इनमें शहर की 22 मुख्य सड़कें शामिल थी। बावजूद इसके केवल कुछ ही सड़कों के गड्ढे भरे गए जबकि बाकी सभी सड़कों का आज भी बुरा हाल है।
केवल एस्टीमेट भेज दिए जाते हैं : प्रवीण
सड़कों की रिपेयर को लेकर कई बार सीएम , डीसी अमित खत्री, ईओ नप व हुडा के एस्टेट आफिसर से ज्ञापन देकर मांग की जा चुकी है। बावजूद इसके दो सालों से मरम्मत नहीं हुई है। केवल एस्टीमेट बना भेज देते हैं।' -प्रवीण बैनीवाल, नगर पार्षद वार्ड 17
ये कहते हैं जिम्मेदार
टेंडर खुलते ही बनेंगी सड़कें
सेक्टर 6,7,8 और 9 में सड़कें बनाने के लिए टेंडर लगे हैं। अर्बन एस्टेट, हाउसिंग बोर्ड व डिफेंस काॅलोनी को नप को दिया जा चुका है। टेंडर खुलते ही सड़कों का निर्माण कराया जाएगा।'-विनोद गुप्ता, एसडीओ, हुडा।
जल्द भरवाए जाएंगे गड्ढे
सेक्टरों की सड़कों के लिए सरकार से बजट की मांग की गई है। जहां तक पैचवर्क की बात है तो सड़कों के गड्ढों को जल्द ही भरवाएं जाएंगे।'-एसके चौहान, ईओ, नगर परिषद

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
तिहाड़ जेल से इनैलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला का पत्र आया बाहर
प्रदेश की लड़कियों को दोपहिया वाहन चलाने व उनके बारे में तकनीकी कौशल की जानकारी देने का निर्णय लिया अनिल विज ने आज हरियाणा होम्योपैथिक कांऊसिल की वेबसाइट का शुभारम्भ किया राज्य प्रदर्शन एवं दृश्य कला विश्वविद्यालय, रोहतक’ का नाम बदलकर ‘पंडित लखमीचंद राज्य प्रदर्शन एवं दृश्य कला विश्वविद्यालय, रोहतक’ किए जाने से देश एवं दुनिया के लोगों को हरियाणवी कला एवं संस्कृति से और अधिक रूबरू होने का अवसर मिलेगा:राम बिलास शर्मा राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में पंजाब नई राजधानी (परिधि) नियंत्रण अधिनियम 1952 (1953 की अधिनियम संख्या 1) में संशोधन को मंजूरी दी गई सीमाओं (कोर सीमाओं के बाहर) के भीतर आने वाले क्षेत्र के लिए ‘सस्ती आवास नीति (पीएमएई) 2018’ को स्वीकृति प्रदान की गई राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में राज्य के शहरी क्षेत्रों में समग्र एकीकृत डेयरी परिसरों के विकास के लिए ब्लूप्रिंट तैयार करने के लिए गठित की गई हिसार को हस्तांतरित करने के पशुपालन एवं डेयरी विभाग के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की गई मंत्रिमंडल की बैठक में इलैक्ट्रोनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग का नाम बदल कर सूचना प्रौद्योगिकी, इलैक्ट्रोनिक्स एवं संचार विभाग रखने के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की गई मंत्रिमंडल की बैठक में हरियाणा खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग, अधीनस्थ कार्यालय (ग्रुप डी) सेवा नियम, 2018 को स्वीकृति प्रदान की गई।