Wednesday, November 21, 2018
Follow us on
Niyalya se

मुरथल टोल प्लाजा प्रॉपर हो, नहीं तो रोक लगा देंगे: हाईकोर्ट

February 09, 2018 05:59 AM

COURSTEY  DAINIK  BHASKAR  FEB9
मुरथल टोल प्लाजा प्रॉपर हो, नहीं तो रोक लगा देंगे: हाईकोर्ट

भास्कर न्यूज | चंडीगढ़

मुरथल के नए टोल प्लाजा पर हाईकोर्ट ने तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा कि टोल प्लाजा प्रॉपर ढंग से नहीं चला जा सकता तो इस पर रोक लगा दी जाएगी। जस्टिस अजय कुमार मित्तल व जस्टिस अनुपिंदर सिंह ग्रेवाल की खंडपीठ ने कहा कि टोल प्लाजा पूरी तरह से यूजलेस है।
नेशनल हाईवे पर वाहनों को तेज और बिना रोक टोक चलना चाहिए, लेकिन इस तरह के टोल प्लाजा लोगों के लिए परेशानी का सबब हैं। इस पर टोल प्लाजा की तरफ से कोर्ट में कहा गया कि 600 मीटर के एरिया को मार्क कर लिया गया है। वाहनों की कतार यदि इस एरिया तक पहुंचती है तो वाहनों को फ्री में निकाला जाएगा।
खंडपीठ ने कहा कि वे किसी भी शनिवार के दिन टोल का दौरा कर मौजूदा हालत जान लेंगे। संतोषजनक हालात न होने पर टोल प्लाजा पर रोक लगा दी जाएगी। इसी संबंध में अन्य याचिका के साथ मामले को जोड़ते हुए कोर्ट ने 14 फरवरी के लिए अगली सुनवाई तय की है। नियमानुसार दो टोल के बीच 60 किलोमीटर से ज्यादा का अंतर होना चाहिए। मुरथल में नया टोल प्लाजा आरंभ होने के बाद पानीपत और इसके बाद घरौंडा में टोल प्लाजा इन नियमों पर खरा नहीं उतर रहा है। लोकल एरिया कस्बे से 10 किलोमीटर का अंतर होने के नियमों पर भी यह टोल प्लाजा खरा नहीं उतरता।

Have something to say? Post your comment
 
More Niyalya se News
केजरीवाल पर हमला करने वाले अनिल शर्मा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा SC/ST Act: Govt justifies amendment after court verdict HC raps state for delay in filing appeals हरियाणा प्रदेश महिला कांग्रेस की वरिष्ठ उपाध्यक्ष व प्रवक्ता रंजीता मेहता के खिलाफ दुष्प्रचार करने वाले सतीश कुमार वोहरा की अग्रिम जमानत याचिका खारिज
1984 के सिख दंगे में 2 दोषी करार: यशपाल को फांसी, नरेश को मिली उम्रकैद
चौदह दिनों की न्यायिक हिरासत में बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा कोर्ट पहुंचे सीबीआई अफसर की बातों से सनसनी ‘अस्थाना पर डोभाल ने दिया था दखल, मंत्री ने कुरैशी पर घूस ली’ HC pulls up Hry for no action against Fortis Action against Delhi cops: HC asks Hry over delay गिफ्ट में प्रॉपर्टी मिलते ही नीयत बदली, बुजुर्ग महिला ने सुप्रीम कोर्ट तक लड़कर पाया हक गिफ्ट डीड की शर्तें पूरी न हो, तब तक रद्द करने का अधिकार है