Wednesday, November 21, 2018
Follow us on
Haryana

रेप कांड: पुलिस की मोहलत खत्म, SC-ST आयोग की टीम के सामने महिलाएं बेहोश

December 13, 2017 07:00 AM

Courtesy DAINIK BHASKAR

Shailendra Sharma |

उकलाना (हिसार)। उकलाना में 6 साल की बच्ची से रेप के बाद मर्डर के मामले में मंगलवार को आरोपियों को अरेस्ट करने के लिए पुलिस द्वारा मांगी गई 48 घंटे की मोहलत खत्म हो गई। हालांकि पुलिस अधिकारियों का कहना है कि टीम आरोपियों के बेहद करीब पहुंच गई है। उम्मीद है कि बुधवार या गुरुवार तक पुलिस इसका खुलासा कर भी देगी, वहीं आज एससी-एसटी आयोग की टीम ने भी यहां पहुंचकर पीड़ित परिवार से मुलाकात की। हालात का जायजा लिया, जिस दौरान पता चला कि इस घटना को लेकर लोगों में किस कदर सहम है। आयोग की टीम के आगे ही कई महिलाएं बेहोश हो गई तो अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया।शरीर पर खरोंच के निशान, प्राइवेट पार्ट में थी 16 सेंटीमीटर लंबी लकड़ी...

- पोस्टमाॅर्टम करने वाली डॉक्टर का कहना है कि दो घंटे तक चली मासूम के पोस्टमाॅर्टम से पता चला है कि बच्ची की मौत प्राइवेट पार्ट में लकड़ी डालने से ही हुई है। लकड़ी गर्भाशय के अंदर बड़ी आंत में जा घुसी थी। आंत पर चोट के निशान भी मिले हैं। 

- पोस्टमाॅर्टम से ये भी खुलासा हुआ है कि लड़की दरिंदे ने मासूम के प्राइवेट पार्ट में 24 सेंटीमीटर लंबी लकड़ी डाल दी थी, जिसमें से 16 सेंटीमीटर अंदर थी। इसके अलावा कंधे, कमर अौर चेहरे पर भी चोट के निशान थे। 
- नाक पर चोट लगने के कारण खून निकला अौर गले पर भी खरोंच के निशान मिले हैं। इन निशानों से लगता है कि बच्ची ने खुद को बचाने की कोशिश की थी।

घर से 400 फीट दूर इस हाल में मिली थी डेड बॉडी
- बताते चलें कि शनिवार रात को यहां तंबुओं में रहने वाली एक फैमिली सो रही थी। रविवार सुबह उठने पर छोटी बेटी गायब मिली। इसके बाद उसन और अन्‍य परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की तो उसका शव घर से 400 फीट दूर टेलिफोन एक्सचेंज के पास लहूलुहान हालत में मिला।
- माूसम के शरीर को बुरी तरह से नोचा गया था और पूरे शरीर पर जख्म मिले हैं। बच्‍ची की चाची ने कहा कि उनकी बच्ची को घर से उठाकर नोचकर मारा डाला। ऐसे में गरीब लोगों की औरतें कहां सुरक्षित है। आज उनकी बच्‍ची को दुष्कर्म करकेे मारा है, कल हमें भी उठा लिया जाएगा।
पुलिस ने रखा आरोपी पर 2 लाख का इनाम
- बरवाला के डीएसपी जयपाल सिंह ने बताया कि पुलिस ने भादसं की धाराआें 302, 376/2/एन, 450/367 के तहत केस दर्ज किया है। पुलिस की कई टीमें जांच में जुटी हुई हैं।
- उधर पुलिस  की तरफ से आरोपी के बारे में किसी भी तरह का सुराग देने वाले को 2 लाख रुपए नकद देने का ऐलान भी किया जा चुका है, मगर बावजूद इसके आरोपियों को पकड़ा नहीं जा सका है।

क्या कहा आयोग के डिप्टी डायरेक्टर ने
- एससी एसटी आयोग की टीम को परिजनों ने बताया कि घटना के पूरे चार दिन हो गए हैं, लेकिन अभी तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया है। इसके साथ ही उन्हें सरकार की ओर से किसी भी प्रकार की कोई मदद नहीं मिल पाई है।
- इस पर दौरा करने के बाद आयोग के टीम में शामिल डिप्टी डायरेक्टर राजकुमार ने कहा कि आयोग इस मामले की पूरी जांच करेगा और सभी अधिकारियों को आदेश दिए गए हैं कि मामले की त्वरित कार्रवाई हो। 
- इस संबंध में एसपी मनीषा चौधरी को भी आदेश दिए गए कि 2 दिनों में आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए। आयोग के डिप्टी डायरेक्टर राजकुमार ने घटनास्थल पर जाकर दौरा किया और जानकारी जुटाई। 
- उन्होंने बरवाला के डीएसपी जयपाल सिंह से पूरे मामले की जानकारी ली और पुलिस द्वारा अब तक की गई कार्रवाई के बारे में पूछताछ की।
- वेरका ने कहा कि आयोग न्याय की लड़ाई लड़ने के लिए पूरी तरह से गंभीर है और इस मामले में अधिकारियों द्वारा लापरवाही बरतने पर उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

यह तस्वीर हिसार जिले के कस्बा उकलाना की है। मंगलवार को यहां 6 साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या के मामले में पीड़ित परिवार से मिलने एससी-एसटी आयोग की टीम पहुंची थी। इस दौरान कई महिलाएं बेहोश होकर गिर पड़ी, जिन्हें अस्पताल पहुंचाया गया।

बेहोश हुई महिलाओं को सांत्वना देती अन्य महिलाएं। घटना के बाद से गरीब परिवार सदमे में हैं।

2 घंटे चले पोस्टमॉर्टम के बाद खुलासा हुआ है कि बच्ची की मौत गुप्तांग में लकड़ी डाले जाने की वजह से ही हुई है। यह बात खुद पोस्टमॉर्टम करने वाली टीम की सदस्य डॉक्टर ने बताई।

रातभर लोग इसी तरह बच्ची की लाश के साथ धरने पर बैठे रहे। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए प्रशासन ने 48 घंटे की मोलत मांगी औी 10 लाख रुपए मुआवजा देने की बात कही, तब जाकर बच्ची काे दफनाया गया।


शनिवार को तंबू से 400 फीट दूर बेहद बुरे हाल में मिली थी मासूम की डेड बॉडी। रात में परिवार के बीच सोई बच्ची को उठाकर की दरिंदगी की हदें पार। प्राइवेट पार्ट में डाल रखी थी लकड़ी।

धरने पर बैठे लोग। शनिवार को 6 साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या कर दिए जाने की बात सामने आई थी।

विरोध प्रदर्शन पर अड़े रहे लोग। कई बार बदली प्रशासन ने अपनी घोषणाएं आखिर रविवार सुबह जाकर उसका अंतिम संस्कार करने के लिए लोग राजी हो गए।

मंगलवार को उकलाना पहुंची एससी-एसटी आयोग की टीम। इसमें आयोग के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. राजकुमार वेरका समेत कई लोग मौजूद थे।

टीम ने जहां पीड़ित परिवार से मुलाकात कर मामले में चल रही गतिविधियों के बारे में जाना, वहीं इस दौरान कई महिलाएं बेहोश होकर गिर गई।

 

Have something to say? Post your comment