Friday, July 20, 2018
Follow us on
Haryana

जींद के जिला परिषदों को दस करोड़ तथा पंचायत समितियों को अढ़ाई करोड़ रूपये की राशि का बजट प्रतिवर्ष उपलब्ध करवाया जायेगा: मनोहर लाल

October 14, 2017 04:35 PM

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि जींद के जिला परिषदों को दस करोड़ तथा पंचायत समितियों को अढ़ाई करोड़ रूपये की राशि का बजट प्रतिवर्ष उपलब्ध करवाया जायेगा। पंचायत समितियां अब तक विकास कार्यों पर निगरानी रखने का काम करती रही है, अब इन्हें अतिरिक्त जिम्मेवारियां भी दी जायेगीं ताकि ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र का सामान रूप से विकास हो सके।

        श्री मनोहर लाल ने यह घोषणा जीन्द के नागरिक अस्पताल में आयोजित एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए की। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार प्रदेश के सभी वर्गों एवं क्षेत्रों का बराबर विकास करवा रही है। जिन विधानसभा क्षेत्रों में पार्टी के विधायक हार गये थे, उन क्षेत्रों के विधायकों से क्षेत्र के विकास के सम्बन्ध में  बातचीत कर वहां भी विकास करवाया जा रहा है। प्रदेश का ऐसा कोई विधानसभा क्षेत्र नहीं है, जिस क्षेत्र में 150- 200 करोड़ रूपये की राशि विकास कार्यों के लिए नहीं दी गई हो। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के पास धन की कोई कमी नहीं है। उन्होंने लोगों से कहा कि वे अगर इसी प्रकार से साथ देते रहे तो आगामी कुछ वर्षों में प्रदेश की तस्वीर बदलकर रख देगें। चुनाव से पहले प्रदेश की जनता से वायदा किया था कि भ्रष्टाचार को जड़ से समाप्त किया जायेगा, अब उस वादे को पूरा किया जा रहा है।                              मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा प्रदेश बनने के बाद कुछ क्षेत्रों का विकास हुआ, लेकिन जीन्द जिला जैसे क्षेत्रों की अनदेखी भी खूब हुई, जिसके परिणाम स्वरूप यह जिला न केवल विकास के मामले में बल्कि अन्य क्षेत्रों में भी काफी पिछड़ा रह गया। उन्होंने कहा कि अब किसी भी क्षेत्र की अनदेखी नहीं की जायेगी। प्रदेश में समान रूप से विकास करवाया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि जो क्षेत्र काफी समय से पिछड़े हुए है, उन्हें अन्य क्षेत्रों के बराबर लाने के लिए अतिरिक्त प्रयास किये जायेंगे।

उन्होंने विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर वे प्रदेश की विकास की ओर थोड़ा सा भी ध्यान देते तो हरियाणा प्रदेश अन्य प्रदेशों के लिए आज रोल मॉडल बन चुका होता। विपक्षी पार्टियों ने सत्ता में रहते हुए वही विकास परियोजनाएं सिरे चढ़ने दी जहां से उन्हे मोटा कमीशन मिलता रहा। जिन विकास परियोजनाओं से उन्हें कमीशन नहीं मिला, वे विकास परियोजना बंद हो गई। भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद बंद पड़ी सभी विकास परियोजनाओं को पुन: शुरू करवा दिया गया है और निश्चित रूप से हर हाल में इन्हें पूरा करवाकर प्रदेश की जनता को नई सौगातें दी जायेगीं।

        उन्होंने कहा कि लोगों को घर द्वार के आसपास सरकारी सेवाओं/ योजनाओं का लाभ शुलभ करवाने के दृष्टिगत प्रदेश के हर गांव में ग्राम सचिवालय स्थापित करवाये जायेंगे। अब तक प्रदेश के 1500 गांवों में ग्राम सचिवालयों की स्थापना करवाई जा चुकी है। उन्होंने यह भी कहा कि हर गांव में वाईफाई की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जायेगी ताकि प्रदेश का युवा दुनिया से जुड़कर अपने इलाके के विकास में भागीदारी निभा सके।

        मुख्यमंत्री ने कहा कि मानेसर-कुण्डली कोरिडोर का निर्माण भी तेजी से करवाया जा रहा है। आगामी 31 दिसम्बर तक इस राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण कार्य पूरा करवा लिया जायेगा। 180 किलोमीटर लम्बाई के इस कोरिडोर का बनना हरियाणा के विकास में मील का पत्थर साबित होगा। लोगों को एक तरफ जहां नये- नये रोजगार एवं स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध होगें वहीं प्रदेश में यातायात सुविधा भी काफी सुगम बन जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सड़क तन्त्र, चिकित्सा, शिक्षा, खेल व अन्य सभी क्षेत्रों में जनता की आशाओं एवं आकांक्षों के अनुरूप काम किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ वर्ष पहले उद्यमी हरियाणा में उद्योग स्थापित करने से घबराते थे, लेकिन आज परिदृश्य पूरी तरह से बदल चुका है। देश ही नहीं बल्कि विदेशों के उद्यमी भी यहां उद्योग लगाने के लिए सरकार से सम्पर्क साध रहे है। अनेक उद्यमियों द्वारा यहां उद्योग स्थापित किये जा रहे है, अब तक हस्ताक्षर हुए एमओयू के आधार पर कई उद्योग स्थापित हुए है, जिनमें 80-85 हजार लोगों को रोजगार एवं स्वरोजगार भी उपलब्ध हुआ है।

        मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार किसान, मजदूर तथा व्यापारी हितैषी सरकार है। इस सरकार ने हर वर्ग के लिए कल्याकारी योजनाएं लागू की है। किसानों को फसल का नुक्सान होने पर पिछले तीन वर्षों में 2450 करोड़ रूपये की राशि मुआवजे के तौर पर दी जा चुकी है। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी राशि हरियाणा प्रदेश के इतिहास में पिछले 48 सालों में भी किसानों में वितरित नहीं की गई, फिर भी विपक्षी पार्टियों के लोग किसान हितैषी होने की बात करते है। उन्हे शर्म आनी चाहिए कि सत्ता में रहते हुए उन्होंने कुछ नहीं किया और सत्ता से बाहर होते ही किसानों, मजदूरों तथा व्यापारियों के सच्चे हितैषी बनने का ढ़ोंग करते है।

        सांसद रमेश कौशिक ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने पिछली सरकार की नीतियों की वजह से रूके विकास कार्यों को पुन: शुरू करवाकर प्रदेश के विकास को नई गति प्रदान कर दी है। जीन्द जिला को 7 नैशनल हाईवे से जोड़ा जा चुका है। उन्होंने कहा कि जब मैं सांसद बना था और सोनीपत से जीन्द आया तब विकास के मामले में यहां के पिछड़ेपन को देखकर लगा कि जीन्द जिला हरियाणा प्रदेश का हिस्सा ही नहीं है। उन्होंने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पिछले तीन वर्षों में इस जिला के विकास के लिए कई काम हुए है। उन्होंने उम्मीद जताई कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल जिस प्रकार से पिछड़े क्षेत्रों के विकास पर विशेष ध्यान दें रहे उसे देखकर लगता है कि जीन्द जिले का पिछड़ापन जल्द ही दूर हो जायेगा। उन्होंने कहा कि जीन्द जिला की पानी की समस्या भी जल्द ही खत्म होने वाली है, क्योंकि इसके लिए सरकार द्वारा एक बड़ा प्रौजेक्ट तैयार किया जा रहा है। शहरी क्षेत्र के विकास की ओर भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है। जीन्द नगरपरिषद द्वारा शहर के विकास पर तीस करोड़ रूपये की राशि खर्च कर अनेक विकास परियोजनाओं को सिरे चढ़ाया गया है।

        उचाना कलां की विधायक प्रेमलता ने कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद जीन्द जिला में विकास के कई काम हुए है। जिससे यहां का पिछड़ापन दूर हो रहा है। उन्होंने कहा कि अन्य जिलों के बराबर आने के लिए जीन्द जिला में प्राथमिकता के आधार पर काम करवाने होंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा कि इस जिला में मेडिकल कॉलेज की अदद जरूरत है, इसलिए जनता की मांग के अनुरूप मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य जल्द शुरू करवाया जाना चाहिए।

        सफीदों के विधायक जसबीर देशवाल ने कहा कि पूर्व की सरकारों ने जीन्द जिला के विकास की ओर कोई ध्यान नहीं दिया, जिससे यह जिला विकास के मामले में पिछड़ गया। भाजपा की सरकार बनने के बाद पिछले तीन वर्षों में यहां कई विकास परियोजनाएं पूरी हुई है और कई नई विकास परियोजनाओं पर काम चल रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार सही मायने में प्रदेश के हर वर्ग का विकास कर रही है। मुख्यमंत्री का जिला में पहुंचने पर बीजेपी के जिला प्रधान अमरपाल राणा ने स्वागत किया।

        कार्यक्रम में बीजेपी के प्रदेश सचिव जवाहर सैनी ने मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल का धन्यवाद किया। इस मौके पर पूर्व सांसद सुरेन्द्र बरवाला, डा० ओपी पहल, डा० राज सैनी, संजीव बुआना, संतोष दनौदा, औमप्रकाश थूआ, विनोद सिंगला, स्वामी राघवानंद, जसमेर रजाना, सियाराम गोयल, पुष्पा तायल, सुभाष शर्मा, सुरेन्द्र धवन, नरेन्द्र शर्मा, जितेन्द्र रोढ़ हरेन्द्र डूमरखां, विजेन्द्र डूमरखां समेत अनेक पदाधिकारी मौजूद रहे। जिला प्रशासन की ओर से हिसार के मण्डलायुक्त  राजीव रजंन , डीसी अमित खत्री, पुलिस अधीक्षक अरूण सिंह, एडीसी धीरेन्द्र खडगटा, जीन्द के एसडीएम विरेन्द्र सहरावत , नगराधीश सत्यवान मान, जिला परिषद के सीईओ मंदीप कुमार, चीनी मिल के प्रबंध निदेशक अश्विनी मलिक, मुख्य चिकित्सा अधिकारी संजय दहिया समेत सभी विभागों के विभागध्यक्ष मौजूद रहे।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
हरियाणा में भाजपा के साथ नहीं अकेले लड़ेंगे अकाली Panipat ex-Mayor booked for misappropriating grains Police bust sex racket in MG Road club Will launch fresh stir if CBI makes more arrests: Malik Karnal airstrip expansion hangs in balance शहीद गुरसेवक के विद्यालय में मनाया गया वन महोत्सव, अध्यापकों व बच्चों ने लगाए 100 से अधिक पौधे भारत सरकार द्वारा स्टूडेंट पुलिस कैडेट(एसपीसी) नामक नया कार्यक्रम शुरू किया जा रहा है हरियाणा माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा स्कूलों में प्रिंसिपल के पद पर पदोन्नति करने के लिए राज्य के सरकारी स्कूलों में सेवारत पी.जी.टी तथा हैडमास्टरों के केस 20 दिन के अंदर मांगे गए हरियाणा उच्चतर शिक्षा विभाग ने छह विषयों के सभी 530 एसिसटैंट प्रोफेसरों को राज्य के सरकारी कालेजों में पोस्टिंग स्टेशन अलॉट कर दिए खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे.. और विधानसभा से गायब सुरजेवाला मीडिया में बड़ बड़ बोले : जवाहर यादव