Tuesday, September 25, 2018
Follow us on
Haryana

डेरा सच्‍चा सौदा के राज: देहदान के नाम पर लेते थे एफिडेविट, फिर कर देते थे हत्या

September 12, 2017 05:42 AM

Courtesy DAINIK JAGRAN

जेएनएन, चंडीगढ़। डेरा सच्चा सौदा अवैध कार्यों धड़ल्‍ले से होते हैं। गुरमीत राम रहीम के जेल जाने के बाद डेरा के राज लगातार उजागर हाे रहे हैं। राम रहीम का गार्ड रह चुके बेअंत सिंह ने डेरा और गुरमीत के बारे में सनसनीखेज खुलासे किए हैं। बेअंत के अनुसार, डेेरे में अनुया‍यियों से देहदान का शपथ पत्र (एफिडेविट) ले लिया जाता था और व्‍यक्ति की हत्‍या कर दी जाती थी। उसने यह भी बताया कि डेरे में अवैध हथियार भी तैयार किए जाते थे।

बेअंत सिंह उन लोगों में शामिल हैं, जिन्हें 2009 में डेरा में नुपंसक बनाया गया था। फिलहाल वह लंदन में है। बेअंत के अनुसार डेरे में कई आरा मशीनें हैं। एक मशीन के बगल में ही खराद मशीन लगी हुई है। इसका इस्तेमाल पिस्टल और गन बनाने में होता था। उसने इस काम को करने वाले तीन लोगों के नाम भी बताए हैं।

उसने बताया कि देहदान के नाम पर लोगों से हलफिया बयान और एफिडेविट लेकर उन्हें मार दिया जाता था। हलफनामा बैंक में रखा जाता था। वह पहले भी डेरे के बेरी के बाग में नरकंकाल होने का दावा कर चुका है। बेअंत ने आरोप लगाया कि एम्स, दिल्ली व पीजीआइ, चंडीगढ़ के डॉक्टर डेरे में जाम-ए-इंसा पीने आते थे। इसे पीकर हर कोई बदहवास हो जाता था। इसमें बाबा अपनी सबसे छोटी अंगुली का खून मिलाता था।

उसने बताया कि डेरे के खास लोगों के नाम से हजारों फर्जी खाते खोले गए हैं। उनसे कोरे चेक पर साइन कराए थे। इन लोगों को पता भी नहीं होता कि उनके खाते में कितनी रकम है और कितनी कब निकाली या जमा कराई गई है।

डेरा प्रमुख को धन-धन सतगुरू कहकर चिढ़ा रहे कई कैदी 

रोहतक की सुनारियां जेल में बंद डेरा प्रमुख गुरमीत को लेकर एक कैदी ने ऑडियो के जरिये उसकी दिनचर्या को लेकर कई बातें बताई हैैं। लूटपाट समेत तीन केस में जेल गए इस कैदी का नंबर 1973 है। उसने कहा कि डेरा प्रमुख से अन्य कैदी तरह-तरह के सवाल करते हैैं। लिहाजा अब वह अपने सेल से अधिक बाहर नहीं निकलता।

डेरा प्रमुख सुबह के समय डेढ़ से दो घंटे तक पौधों को पानी देता है। उसने अपने पास एक डायरी रखी हुई है, जिसमें वह कुछ-कुछ लिखता रहता है। इस कैदी ने इस बात से इन्‍कार किया कि हनीप्रीत को लेकर बाबा चिल्लाता है। कैदी के अनुसार जेल से बाहर आने वाले दूसरे कैदी गलत बयानबाजी कर रहे हैैं। कैदी उससे यह जरूर पूछते हैैं कि बाबा तुम यहां कैसे, इस पर डेरा प्रमुख जवाब देता है कि सब काल की माया है।

डेरा प्रमुख के सेल के आगे से आते-जाते अन्य कैदी धन-धन सतगुरू की आवाज बोलते हैैं। कुछ उसके समर्थक हैैं तो कुछ ऐसा बोलकर चिढ़ाते हैैं। उसे सेल के भीतर ही खाना दिया जाता है। हाजिरी भी उसकी वहीं लगती है। कैदी के अनुसार, डेरा प्रमुख सामान्य सफेद कपड़े पहनता है और रात को कंबल ओढ़कर बैठ जाता है।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में मंत्रिमण्डल की बैठक में बहुत सारी स्वीकृति प्रदान की गई
हरियाणा के राज्यमंत्री कृष्ण बेदी और मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन मंत्रिमंडल की बैठक में हुए फैसलों की जानकारी पत्रकारों को देते हुए
स्वच्छता ही सेवा पखवाड़े के तहत आज छोटा शिवाला अम्बाला छावनी वार्ड नम्बर 20 में सफाई अभियान चलाया गया प्रदेश में भारी बरसात जिस तरह किसानों पर आफत बन कर आई वो बेहद चिन्ता का विषय:पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा मंगलवार को चंडीगढ़ में हरियाणा मंत्रिमंडल की बैठक हुई मौसम / पहाड़ों में बारिश में आई कमी, हथनीकुंड बैराज का जलस्तर घटा, हरियाणा में दोपहर बाद बारिश के आसार
हरियाणा सरकार ने राजेश खुल्लर सहित चार अफसरों को अतिरिक्त मुख्य सचिव बनाया
हिसार-सरकार बनने पर कारीगरों को देंगे ब्याज रहित कर्ज : सांसद सैनी सोनीपत-शहीद नरेन्द्र के घर पहुंचे सीएम, नौकरी के साथ 50 लाख रूपये की दी आर्थिक मदद रेवाड़ी-2 दिन की हड़ताल पर बिजली निगम के जेई, शक्ति भवन कार्यालय में दिया धरना