Wednesday, October 16, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
जयपुरः चूड़ी बनाने वाली फैक्ट्री से 6 बाल मजदूरों का रेस्क्यू, एक आरोपी गिरफ्तारहरियाणाः अंबाला कैंट से BSP उम्मीदवार राजेश घायल, 2 अज्ञात लोगों ने किया हमलायूपीः 31 मार्च के बाद होमगार्ड को नए मानदेय के साथ मिलेगी पूरी ड्यूटी-चेतन चौहानसंसद के शीत सत्र की तारीखों का कल ऐलान संभव, CCPA करेगी बैठककांग्रेस की सरकार बनने की भनक पा परेशान हो उठी भाजपा : कुमारी सैलजादिल्लीः रैनबैक्सी के पूर्व सीईओ मलविंदर सिंह की पुलिस हिरासत 2 दिन के लिए बढ़ीमुर्शिदाबाद हत्याकांडः बीजेपी का एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति कोविंद से मिलाEC ने 21 अक्टूबर को सुबह 7 बजे से शाम 6.30 बजे तक एग्जिट पोल पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की
 
Haryana Crime

AMAR UJALA OCT 31-पुलिसकर्मी द्वारा युवक को जलाने के मामले में बरती गई लापरवाही दो दिन तक मौकास्थल पर नहीं गए पुलिस अधिकारी

October 31, 2013 05:01 AM
पुलिसकर्मी द्वारा युवक को जलाने के मामले में बरती गई लापरवाही
दो दिन तक मौकास्थल पर नहीं गए पुलिस अधिकारी
सिद्धार्थ यादव
रेवाड़ी। शराब लाने से मना करने पर कबाड़ी के कारिंदे को पुलिसकर्मी द्वारा जलाने के मामले में पुलिस ने सबूत इकट्ठे करने में भी कोताही बरती। वारदात के 48 घंटे तक कोई भी पुलिसकर्मी मौकास्थल पर नहीं गया, जबकि घायल ने झुलसी हुई अवस्था में खुद थाने जाकर शिकायत दी थी।
पुलिस जवान से जुड़े होेने वाले इस संवेदनशील मामले को किसी भी स्तर पर गंभीरता से नहीं लिया गया। अभी तक पुलिस के हाथ कोई भी सबूत नहीं लगा है। जिस बोतल या कैन से इंद्रजीत पर पेट्रोल छिड़का गया था, वह भी पुलिस के हाथ नहीं लगी है। उससे यदि फिंगर प्रिंट लिए जाते तो मामले में पुख्ता सबूत मिल सकते थे।
धारूहेड़ा में धर्मेंद्र कबाड़ी की दुकान पर 22 अक्तूबर को रात लगभग आठ बजे कर्मचारी इंद्रजीत आग में बुरी तरह झुलस गया। उसने आरोप लगाया कि कांस्टेबल मनजीत ने शराब लाने से मना करने पर उसे कैन से पेट्रोल छिड़कर जलाया है।
इसके बाद कबाड़ी धर्मेंद्र उसे लेकर अस्पताल में गया, जहां से उसे पुलिस थाने भेज दिया गया। वहां पुलिस ने इलाज करवाने की बात कहकर उसे उल्टा अस्पताल भेज दिया, लेकिन पूरी रात किसी भी पुलिस अधिकारी ने उसकी सुध नहीं ली।
उसी समय जाते तो मिलते सबूत
घायल इंद्रजीत ने 22 अक्तूबर रात को खुद थाने में जाकर पुलिस कर्मचारी मनजीत पर जलाने का आरोप लगाया था। पुलिस की प्रतिष्ठा से जुड़ा मामला होेने के बावजूद कोई पुलिस अधिकारी मौकास्थल कबाड़ी की दुकान पर नहीं गया। 23 अक्तूबर को भी पुलिस की घायल से संक्षिप्त बातचीत हुई। इसके बाद भी कोई पुलिस कर्मचारी मौके पर नहीं गया। 24 को मामला मीडिया में आने के बाद पुलिस ने केस दर्ज किया।
दो दिन बाद गए, तब तक हो चुकी थी सफाई
जांच अधिकारी शकुंतराज ने कहा कि घायल इंद्रजीत ने 24 अक्तूबर को घटना के बारे में विस्तार से बताया है। थाने में मामला दर्ज करके घटनास्थल पर गया था। सबूत इक्कठे करने के लिए शराब के अहाते और कबाड़ी की दुकान पर गया था, लेकिन वहां कोई सबूत नहीं मिला। दुकानदारों ने कहा कि सफाई कर दी। यह ध्यान नहीं है कि उस समय क्या चीज कहां थी।
घायल ने खुद थाने जाकर दी थी अपराध की जानकारी
वारदात के बाद फरार है आरोपी
पुलिस के पास पर्याप्त सबूत हैं। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए तीन टीमों का गठन किया गया है। जल्द ही उसे काबू कर लिया जाएगा।
- पंकज नैन, एसपी, रेवा
Have something to say? Post your comment
More Haryana Crime News
सिरसा: पुलिस और नशा तस्करों के बीच मुठभेड़ में एक की मौत HARYANA-पेट्रोल पंप पर सेल्समैन के सिर में पिस्तौल का बट मारकर 10 हजार ले भागे बदमाश HIMCHAL BYE ELECTION-BJP bosses show the door to rebels Pyari, Chaudhary; triangular contests in offing सोनीपत में बदमाशों ने दो महिलाओं और 6 महीने के बच्चे को मारी गोली हरियाणा: रेवाड़ी में ढाई साल की बच्ची से रेप, नाबालिग आरोपी गिरफ्तार गुरुग्राम: दिनदहाड़े बदमाशों ने युवक को लूटने के बाद मारी गोली, हालत गंभीर
नाई की दुकान पर कटिंग करवाने गए होमगार्ड की पड़ोसी ने गोली मारकर की हत्या
करनाल:नई अनाज मंडी में मुंशी से दो बाइक सवार ने गन प्वाइंट पर चार लाख रुपये लूटकर फरार हुए इसराना में राज्य स्तर के कुश्ती प्लेयर की चाकू तलवारो से गोदकर हत्या की
अम्बाला:गैंगस्टर रणदीप राणा के पिता को अज्ञात 4 मारुति सवार युवकों ने गोली मारकर की हत्या