Monday, July 16, 2018
Follow us on
Crime

अम्बाला में स्कूटी सवार से छीने 45 लाख रुपए

October 26, 2013 12:11 PM

अम्बाला सिटी. स्कूटी पर जा रहे जितेंद्र कुमार की आंखों में मिर्च डालकर नकाबपोश लुटेरे 45 लाख रुपए लूट कर फरार  हो गए। आरोपियों ने पहले जितेंद्र से जमकर मारपीट भी जिसके कारण वह बेहोश हो गया। पड़ोस के दुकानदारों ने उसे पानी पिलाया तब उसे सिविल अस्पताल में दाखिल कराया गया। उधर, पुलिस को यह मामला हवाला कारोबार से जुड़ा नजर आ रहा है।

वारदात के तुरंत बाद जब पुलिस ने जांच शुरू की तो जितेंद्र के किराए के भवन से पुलिस ने 17 लाख रुपए जब्त कर लिए। साथ ही नोट गिनने की मशीनें कब्जे में लेने के साथ उसके 2 सहयोगियों को भी हिरासत में ले लिया है। हवाला कारोबार में पुलिस को अम्बाला के कई लोगों के भी शामिल होने का शक है। साथ ही एक कोरियर कंपनी भी जांच के दायरे में है। अब पुलिस जितेंद्र व उसके साथियों से पूछताछ कर रही है। लूट की वारदात देर शाम को शेखों पेट्रोल पंप से सटी सेक्टर-7 की सड़क पर हुई। 


यमुनानगर के राजेश कुमार-अमृतलाल ज्वेलर्स के पास काम करने वाला जितेंद्र कुमार तब यहां से एक्टिवा पर सवार होकर गुजर रहा था। तब उसने अपने पास 45-46 लाख रुपए होने की बात कही। उसने बताया कि सामने से आए अचानक 3-4 युवकों ने उसकी आंखों में मिर्च डाल दी। मारपीट कर आरोपी उससे पैसे छीन ले गए। उसने पुलिस को बताया कि उसके मालिक डायमंड सप्लाई का कारोबार करते हैं। लूटी गई राशि सप्लाई किए गए डायमंड की थी।

शुरुआती जांच में ही पुलिस को जितेंद्र के बयान पर शक हो गया। तभी अस्पताल से डिस्चार्ज होते ही उसे पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया। थोड़ी देर बाद ही पुलिस सेक्टर-7 के उस भवन पर पहुंच गई जहां जितेंद्र अपने 2-3  साथियों के साथ किराए पर रह रहा है। उसके साथी गुजरात के सूरत के बताए जा रहे हैं। तलाशी के दौरान पुलिस को इनके कब्जे से 17 लाख रुपए की नकदी के साथ नोट गिनने की मशीनें तथा कुछ और आपत्तिजनक सामग्री मिली है।

डीसीपी (अर्बन) विनोद कौशिक ने 45 लाख रुपए की लूट का मामला दर्ज करने की पुष्टि की है। उन्होंने मामले के हवाला कारोबार से भी जुड़ा होने की बात कही है। साथ ही बताया कि जितेंद्र के रिहायशी भवन से 17 लाख की नकदी व उसके साथियों को भी पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है।


ऐसे हुआ पुलिस को शक

जितेंद्र ने बताया कि उसके मालिक डायमंड कारोबारी हैं लेकिन कौन हैं, ये नहीं बता पाया।
अगर लूटी गई राशि सप्लाई किए गए डायमंड की थी तो उसने घर पर क्यों रखी।
आखिर किराए के घर में नोट गिनने की मशीनों का क्या काम।

Have something to say? Post your comment
 
More Crime News
बुराड़ी कांड: हवन के बाद रोज फंदे पर लटक जाता था परिवार, 6 दिन की थी प्रैक्टिस
राहुल के घर पार्टी नेताओं की बैठक जारी, आज़ाद, गहलोत और वेणुगोपाल मौजूद बलोचिस्तान में हिंदू व्यापारी और उसके बेटे की हत्या दिल्लीः मंगोलपुरी में हथौड़े से पत्नी की निर्मम हत्या की दिल्ली: पुराने सीलमपुर इलाके के एक स्कूल में गार्ड की हत्या दिल्ली: भारतीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने किया रिपब्लिक ऑफ ताजिकिस्तान के रक्षा मंत्री मिर्जो शेराली का स्वागत। दिल्ली: राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड की रिहर्सल करती SSB की टुकड़ी दिल्ली: रणहौला इलाके में 45 वर्षीय व्यक्ति की हत्या बिहार के समस्तीपुर में RJD नेता हरे राम यादव की गोली मारकर हत्या AMU स्टूडेंट यूनियन के पूर्व अध्यक्ष शहजाद बर्नी को अज्ञात बदमाशों ने मारी गोली