हरियाणा

मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डा. राकेश गुप्ता को गुरुग्राम के उपायुक्त हरदीप सिंह ने विश्वास दिलाया कि गुरुग्राम जिला के सभी आवारा तथा बेसहारा पशुओं को 31 जुलाई तक सडक़ों से हटा दिया जाएगा।

April 21, 2017 06:13 PM

मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डा. राकेश गुप्ता को गुरुग्राम के उपायुक्त हरदीप सिंह ने विश्वास दिलाया कि गुरुग्राम जिला के सभी आवारा तथा बेसहारा पशुओं को 31 जुलाई तक सडक़ों से हटा दिया जाएगा।
डा. राकेश गुप्ता आज वीडियो कॉन्फ्रैंसिंग के माध्यम से प्रदेश के सभी उपायुक्तों तथा रजिस्ट्रिंग लाईसैंसिंग अथॉरिटी (आरएलए) अर्थात एसडीएम व क्षेत्रीय यातायात प्राधिकरण के सचिवों व अन्य अधिकारियों के साथ आवारा पशुओं को पकडऩे, शहरी क्षेत्र को खुले में शौच मुक्त बनाने तथा एसओपी के संचालन के बारे में समीक्षा कर रहे थे।
आवारा पशुओं को पकडऩे के कार्य की समीक्षा के दौरान गुरुग्राम के उपायुक्त हरदीप सिंह ने डा. गुप्ता को विश्वास दिया कि गुरूग्राम जिला शहरी क्षेत्रों में घूमने वाली लगभग 1000 बेसहारा गायों के लिए कार्टरपुरी, संगेल तथा सिलानी गौशालाओं में जगह बनाकर उनमें स्थानांतरित करने की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में कलस्टर बनाकर पशुओं के फाटक बनाए जाएंगे, जहां पर आवारा पशुओं को पकडक़र रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि बेसहारा गायों के लिए दौलताबाद और मानेसर की गौशालाओं में भी जगह उपलब्ध है।
ड्राइविंग लाइसैंस बनाने के लिए गुरूग्राम जिला में हाल ही में लागू किए गए स्टैंडर्ड ऑप्रेटिंग प्रोसिजर (एसओपी) के सफल संचालन के लिए आज मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डा. राकेश गुप्ता ने उपायुक्त हरदीप सिंह तथा तीनों एसडीएम को शाबाशी दी और कहा कि सारथी-4 सॉफ्टवेयर को लागू करने में गुरूग्राम जिला में सराहनीय कार्य हुआ है।
    उन्होंने कहा कि गुरूग्राम में प्रदेश के सभी जिलों से ज्यादा ड्राइविंग लाईसैंस बनाने के आवेदन आते हैं, ऐसे में वे इस कार्य को किस प्रकार सफलता से अमलीजामा पहना रहे हैं और कहा कि उनकी इस कार्यशैली को सुनकर अन्य जिलों के अधिकारी भी अपने यहां उस पर अमल करेंगे। उपायुक्त हरदीप सिंह ने सारथी-4 सॉफ्टवेयर के सफल संचालन का श्रेय तीनों एसडीएम को दिया और कहा कि सरकार की हिदायतों के अनुसार ही इस सॉफ्टवेयर का संचालन किया जा रहा है। डा. गुप्ता ने कहा कि एसओपी लागू करने से काफी हद तक भ्रष्टाचार पर लगाम लगेगी और मुख्यमंत्री का आम जनता को सुशासन देने का सपना साकार हो सकेगा।
     शहरी क्षेत्र को खुले में शौच मुक्त बनाने के मामले में नगर निगम की संयुक्त आयुक्त अनु श्योकंद ने बताया कि निगम द्वारा इस दिशा में दो पहलुओं पर काम किया जा रहा है। एक इन्फ्रास्ट्रक्चर खड़ा करने और दूसरा, लोगों को शौचालय का इस्तेमाल करने के लिए जागृत किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अगले 15 दिन में नगर निगम के 8 वार्डों को खुले में शौच मुक्त घोषित कर दिया जाएगा और पूरे नगर निगम क्षेत्र को 15 अगस्त तक खुले में शौच मुक्त करने का लक्ष्य रखा गया है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हरियाणा ख़बरें
व्यापार मण्डल के प्रान्तीय अध्यक्ष बजरंग दास गर्ग 30 जुलाई को अंबाला में व्यापारियों को संबोधित करेंगे DLF Foundation pays homage to soldiers on Kargil Vijay Diwas गुड़गांवः सहारा मॉल के स्पा में चल रहा था सेक्स रैकेट। पुलिस ने 6 युवतियों और 1 युवक को किया अरेस्ट। सिलीगुड़ी से दिल्ली के रास्ते आई करोड़ों की चाय, हरियाणा में टैक्स चोरी कर बेची जा रही कामों की गठड़ी लेकर सीएम से मिलें अध्यक्ष तो मजबूत होगी पार्टी: बीरेंद्र 2 और महिलाओं की चोटी काटीआरोपी के खिलाफ केस दर्ज फरीदाबाद की गौशाला में भूख से मरीं 4 गायें Ahmed's RS quest in jeopardy सूखे और हानिकारक पेड़ों, जिससे यातायात, संपत्ति का नुकसान या किसी के जीवन को खतरा हो सकता है, को तुरंत हटाने के लिए कदम उठाने का निर्णय लिया मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा शीघ्र ही करनाल में स्थापित की जा रही नई शुगर मिल को किसानों को समर्पित किया जाएगा
लोकप्रिय ख़बरें
Visitor's Counter :   0034107801
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved. Website Designed by mozart Infotech