हरियाणा सरकार ने प्रदेश के लोगों को बेहतरीन चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से कई अहम निर्णय लिए उत्कृष्टï खिलाडिय़ों को वर्ग-एक और दो के पदों के लिए भी 3 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा:विजधनखड़ ने कहा सरकार का हर कदम किसानों के हित में ही उठेगाखट्टर सरकार ने बीएस संधू को हरियाणा पुलिस का नया महानिदेशक नियुक्त किया, पुलिस महकमे में भारी फेरबदल के चलते केपी सिंह डीजीपी जेल और चार अन्य आईपीएस को किया इधर से उधरअरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश, कई स्थानों पर भूस्खलनराजस्थान के उदयपुर में रहने वाले कल्पित वीरवल ने जेईई मेन एग्जाम में टॉप कियाकुपवाड़ा हमले पर सेना का बयान: दो आतंकवादी मार गिराएकुपवाड़ा हमला: पुलिस के मुताबिक मुठभेड़ में गोली लगने से घायल हुए नागरिक ने दम तोड़ाघर पहुंचा विनोद खन्ना का पार्थ‍िव शरीर, थोड़ी देर में होगा अंतिम संस्कार10 साल पुराने डीजल वाहन बैन करने पर NGT ने फैसला सुरक्षित रखा
हरियाणा

GWAL PAHARI CASE - Revenue officials told to appear with land records

April 21, 2017 07:23 AM


COURSTEY Apr 21 2017 : The Times of India (Chandigarh)
GWAL PAHARI CASE - Revenue officials told to appear with land records
Chandigarh:
TIMES NEWS NETWORK


The Punjab and Haryana high court on Thursday directed the revenue officials of Gurugram district to appear before it on May 4, with complete record pertaining to the ownership of various properties in Gwal Pahari village land.
A division bench headed by Justice S S Saron passed these orders on a petition seeking directions to hold a CBI probe into the alleged irregularities in the ownership of 464 acres worth Rs 3,000 crore in Gwal Pahari.

During the hearing on Thursday , the counsel for the petitioner submitted details of mutations entered in the name of some private parties in relation to the ownership of land. On the previous date of hearing on April 5,the Punjab and Haryana high court had asked the petitioner to submit the details related to the abovesaid land.

The matter reached before the HC in the wake of a public interest litigation (PIL) filed by Harinder Dhingra, a resident of Gurugram, demanding CBI investigations in the land issue.

The petitioner sought directions to hand over the investigations in the matter of sanction of mutation No.3112 in respect of said land, which earlier vested in the Gwal Pahari gram panchayat since 1940-41, were with the Gurugram municipal corporation from March 2010.

According to the petitioner, CBI probe was needed so that all those found guilty of various acts or omission and commission in the land scam, including the revenue officials, bureaucrats and even politicians by their inaction, action by passing orders without authority of law and jurisdiction, and illegally interfering at the behest of buildersproperty dealers were brought to book.

Further directions have also been sought to issue order designating a financial commissioner to decide the issue of mutation in respect of the said land “as the order of September 15, 2014, passed by Haryana additional chief secretarycum-financial commissioner (revenue) Y S Malik was without jurisdiction“.

The PIL sought that registration of alienating any portion of the land involved shall remain stayed without the permission of the court.

The petitioner has also mentioned the name of some bureaucrats who had allegedly helped some builders in getting the ownership of said land.

Around 464 acres of prime land worth Rs 3,000 crore in Gwal Pahari is mired in a labyrinth of pending suits before various c ourts for the past around four decades

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हरियाणा ख़बरें
मनोहर लाल ने स्कूल शिक्षा विभाग को नई अपग्रेडेशन नीति के तहत जिला नूंह और जिला पंचकूला के मोरनी में विद्यालयों को प्राथमिकता के आधार पर अपग्रेड करने के निर्देश दिए हरियाणा में चालू रबी खरीद मौसम के लिए गेहूं के 75 लाख मीट्रिक टन के निर्धारित खरीद लक्ष्य की तुलना में 66.48 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं की खरीद करके 88.64 प्रतिशत लक्ष्य पूरा कर लिया गया राज्य सरकार ने अपने विभागों, बोर्डों और निगमों में उच्च जोखिम के कार्यों की पहचान करने और ऐसे प्रत्येक कार्य के पदाधिकारियों के लिए बीमा तथा अन्य विशेष योजनाएं तथा जोखिम भत्ते के लिए अपनी सिफारिशें देने हेतु एक कमेटी गठित की:कैप्टन अभिमन्यु सृष्टिï के आदि वास्तुकार भगवान विश्वकर्मा दिवस के अवसर पर प्रदेश की लगभग 60 हजार पंजीकृत महिला श्रमिकों को सिलाई मशीन बांटी जाएगी:नायब सिंह सैनी हरियाणा सरकार ने प्रदेश के लोगों को बेहतरीन चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से कई अहम निर्णय लिए हरियाणा सरकार ने वर्ष 2017-18 के दौरान प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजलापूर्ति तथा शहरी क्षेत्रों में सीवरेज व बरसाती पानी की निकासी प्रणाली में सुधार हेतु 1121 नई योजनाओं पर लगभग 738.12 करोड़ रुपये की राशि खर्च करने का निर्णय लिया राज्य मलेरिया उन्मुलन कार्यक्रम के तहत प्रदेश को वर्ष 2022 तक मलेरिया मुक्त किया जाएगा: विज उत्कृष्टï खिलाडिय़ों को वर्ग-एक और दो के पदों के लिए भी 3 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा:विज प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत बीमित किसानों को न केवल प्राकृतिक आपदा की बजह से खराब हुई फसल के लिए मुआवजा दिया जाता है:मनोहर लाल वर्तमान समय की आवश्यकता को देखते हुए समाज में बेटियों के प्रति अपना दृष्टिïकोण बदलने के लिए जागरूकता लानी होगी:कविता जैन
लोकप्रिय ख़बरें
Visitor's Counter :   0032074692
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved. Website Designed by mozart Infotech