मनोरंजन समाचार

पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां ने ट्विटर पर शेयर किया फिल्म का फर्स्ट लुक पोस्टर

April 20, 2017 04:00 PM
पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां ने ट्विटर पर शेयर किया फिल्म का फर्स्ट लुक पोस्टर

सिरसा:अपनी चार फिल्मों से दर्शकों से अपार प्रशंसा पाकर वालीवुड में नए आयाम स्थापित करने वाली बाप-बेटी की जोड़ी यानि पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां व उनकी पुत्री हन्नीप्रीत इन्सां एक बार फिर अपने दर्शकों का दिल जीतने के लिए तैयार है। बाप-बेटी की जोड़ी के निर्देशन, अभिनय में बनी उनकी अगली कॉमेडी फिल्म 'जट्टू इंजीनियर' 19 मई को सिनेमा घरों में रिलिज हो रही है। इस फिल्म का फर्स्ट लुक व रिलिज डेट पोस्टर वीरवार को पूज्य गुरूजी द्वारा ट्विटर पर शेयर किया गया। 
                  हकीकत एंटरटैनमेंट प्राइवेट लिमिटेड के बैनर तले बनी डॉ. एमएसजी की यह पांचवीं फिल्म है। वीरवार को पूज्य गुरूजी ने अपने ट्विटर हैंडल से फिल्म का पहला रिलिज डेट लिखा हुआ धमाकेदार पोस्टर रिलीज किया। 'जट्टू इंजीनियर' एक साफ-सूथरी कॉमेडी फिल्म है,जो दर्शकों को खूब हंसा-हंसाकर लोट-पोट करेंगी। इस फिल्म की शूटिंग 7 मार्च को शुरु हुई थी और पूज्य गुरु जी ने इस फिल्म का कार्य इतनी रफ्तार से किया कि फिल्म की शूटिंग 15 दिन यानि 22 मार्च को कम्पलीट हो गई।   
* 15 दिन में शूंटिग हुई पूरी
इस फिल्म में भी डॉ. एमएसजी ने निर्देशन से लेकर अभिनय, डीओपी, स्क्रिप्ट राइटिंग, सांग राइटिंग, सेट डिजानिंग, ड्रेस डिजाइनिंग,एडिटर, कोरियोग्राफी समेत 40 से भी अधिक भूमिकाएं निभाई है। फिल्म की शूटिंग से लेकर पोस्ट प्रोडक्शन समेत फिल्म का सम्पूर्ण निर्माण सिरसा में ही हुआ है। फिल्म एक पिछड़े गाँव की कहानी पर आधारित है जो दर्शकों को हंसी से लोटपोट करेंगी। इस फिल्म की शूटिंग से लेकर पोस्ट प्रोडेक्शन तक के सभी कार्य सिरसा में हुए है।
* 'जट्टू इंजीनियर' की कहानी एक पिछड़े गांव पर आधारित 
'जट्टू इंजीनियर' फिल्म की कहानी एक ऐसे गांव की पृष्टभूमि पर आधारित है, जोकि अत्यंत पिछड़ा हुआ है। इस गांव के निवासी आलसी होने के साथ-साथ नशों की गर्त में भी डूबे हुए है। इस पिछड़े गांव में स्कूल तो है लेकिन अध्यापक नहीं। इस फिल्म में मुख्य हीरो डॉ. एमएसजी एक जट्टू इंजीनियर और एक राजपुत हैडमास्टर की भूमिका में नजर आ आएंगे। फिल्म में दिखाया गया है कि अगर यदि पूर्ण सकारात्मकता से कार्य किया जाए तो किसी भी हद तक बदहाल हुए गांव की तस्वीर को बदला जा सकता है। फिल्म में दिखाया गया है कि वे किस तरह से इस गांव के स्कूल में आकर ग्रामीणों को सुधारते हैं। फिल्म की शूटिंग मात्र 15 दिन में पूरी हुई है तथा इसमें 2 गाने भी है,जो डॉ. एमएसजी ने खुद गाए हैं। 

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
Readers' Opinions
Malout 4/20/2017 10:38:00 PM

We r so exited for this movie

bathinda 4/20/2017 11:43:54 PM

V r too mch exicted papa.. cheti cheti 19 may aajeee..

rimpydhuria 4/21/2017 4:01:45 AM

Wait movie exited

और मनोरंजन समाचार ख़बरें
दिल्ली स्थित डॉलीवुड टैलेंट क्लब में हुआ रिलीज़ इवेंट आयोजित पुणे: अनुपम खेर ने FTII के छात्रों से की मुलाकात फिल्म निदेशक लेख टंडन का निधन आर्थिक विकास, रोजगार, अनौपचारिक क्षेत्र, फिस्कल फ्रेमवर्क, मॉनेटरी पॉलिसी समेत 10 मुद्दे प्राथमिकता में हैंः बिबेक देबरॉय EAC-PM का फोकस आर्थिक वृद्धि को गति देने और रोजगार पर होगाः बिबेक देबरॉय 66 साल की उम्र में रॉक सिंगर टॉम पेटी का निधन राज बब्बर बोले- राहुल की रैली पर लगाई पाबंदी लोकतंत्र की हत्या के समान मुंबई: वर्ली के शव दाह गृह में होगा अभिनेता टॉम ऑल्टर का अंतिम संस्कार नहीं रहे एक्टर टॉम आल्टर, 67 साल की उम्र में कैंसर से निधन शत्रुघ्न ने किया आर्थिक हालात पर यशवंत सिन्हा के विचार का पुरजोर समर्थन
लोकप्रिय ख़बरें
Visitor's Counter :   0036416944
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved. Website Designed by mozart Infotech