हरियाणा सरकार ने प्रदेश के लोगों को बेहतरीन चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से कई अहम निर्णय लिए उत्कृष्टï खिलाडिय़ों को वर्ग-एक और दो के पदों के लिए भी 3 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा:विजधनखड़ ने कहा सरकार का हर कदम किसानों के हित में ही उठेगाखट्टर सरकार ने बीएस संधू को हरियाणा पुलिस का नया महानिदेशक नियुक्त किया, पुलिस महकमे में भारी फेरबदल के चलते केपी सिंह डीजीपी जेल और चार अन्य आईपीएस को किया इधर से उधरअरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश, कई स्थानों पर भूस्खलनराजस्थान के उदयपुर में रहने वाले कल्पित वीरवल ने जेईई मेन एग्जाम में टॉप कियाकुपवाड़ा हमले पर सेना का बयान: दो आतंकवादी मार गिराएकुपवाड़ा हमला: पुलिस के मुताबिक मुठभेड़ में गोली लगने से घायल हुए नागरिक ने दम तोड़ाघर पहुंचा विनोद खन्ना का पार्थ‍िव शरीर, थोड़ी देर में होगा अंतिम संस्कार10 साल पुराने डीजल वाहन बैन करने पर NGT ने फैसला सुरक्षित रखा
पंजाब समाचार

अकाली सरकार के बनाए कमीशन की नजर में कोई दोषी नहीं, एजी की राय-नया कमीशन बनाया जाए

April 10, 2017 05:36 AM

courstey  DAINIKBHASKAR  APRIL10

अकाली सरकार के बनाए कमीशन की नजर में कोई दोषी नहीं, एजी की राय-नया कमीशन बनाया जाए
भास्कर: इतना बड़ा कांड और आपकी रिपोर्ट में कोई दोषी नहीं? जस्टिस जोरा: घटनाएं सामूहिक थीं, व्यक्ति विशेष ने नहीं की
बात
सीधी
बेअदबी की जांच भी बेअदबी से... कैप्टन के कानूनी जनरल ने जस्टिस जोरा की रिपोर्ट को किया खारिज
हरीश मानव | चंडीगढ़


पंजाबकेनए एडवोकेट जनरल अतुल नंदा का मानना है कि श्री गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटनाओं की जांच ही बड़ी 'बेअदबी' से हुई है। इसलिए पूरी जांच नए सिरे से होनी चाहिए, जिसके लिए नया कमीशन बनना चाहिए। नंदा ने अकाली-भाजपा सरकार द्वारा गठित जस्टिस जोरा कमीशन की जांच में खामियां निकालते हुए कैप्टन सरकार को राय दी है कि इसके आधार पर कार्रवाई की जाए, क्योंकि यह वेग है। एजी ने लिखा है कि जस्टिस जोरा कमीशन की रिपोर्ट भी कहती है कि बेअदबी और इसके खिलाफ उठे विरोध को कुचलने के लिए सरकार-पुलिस ने सही तरीके से काम नहीं किया। साथ ही किसी को दोषी भी नहीं बताया गया है। ये तो माना है कि इन घटनाओं के पीछे कुछ बड़े लोग हैं, लेकिन उनके नाम नहीं बताए गए। कमीशन ने रिपोर्ट में सिर्फ यह कहकर बात खत्म कर दी कि बहबलकलां में पुलिस फायरिंग सेल्फ डिफेंस में नहीं, अनवारेंटेड थी। रिपोर्ट में 'पुलिस फायरिंग', 'कुछ पुिलस अफसर' जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया गया है, पर यह साफ नहीं किया गया है कि कौन सा अफसर, कौन-कौन से पुिलसकर्मी। इसलिए जांच ही नए सिरे से होनी चाहिए। बेअदबी की घटनाओं पर कार्रवाई के लिए कैप्टन सरकार ने ही एजी से राय मांगी थी कि आगे क्या होना चाहिए। -शेष पेज3 पर
जस्टिस जोरा सिंह
{नए एजी ने आपकी रिपोर्ट को वेग बताते हुए खारिज कर दिया है। आपका क्या कहना है?
-मेरीऑब्जर्वेशन बिल्कुल सही है। नई सरकार के नए एजी कुछ भी कर सकते हैं।
{एजीने आपकी रिपोर्ट पर सवाल उठाते हुए कहा है कि बरगाड़ी कांड में किसी को दोषी नहीं ठहराया गया। फायरिंग करने वाले अफसरों-कर्मियों के नाम तक नहीं लिखे गए?
-मामलाबेहद संवेदनशील है। इसलिए कोई सनसनी नहीं फैलाई गई। ये व्यक्ति विशेष द्वारा की गई घटना नहीं, बल्कि सामूहिक घटानाएं हैं।
{फरीदकोटके गांव बुर्ज जवाहरसिंहवाला के गुरुद्वारे से बीड़ चोरी की घटना में शामिल लोगों के स्कैच गवाहों से बात किए बगैर ही बना दिए गए। इतनी बड़ी लापरवाही कैसे हो गई?
-मुझेयाद नहीं कि क्या हुआ था।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब समाचार ख़बरें
पंजाब में पार्टी का रिजल्ट अच्छा नहीं रहा इसलिये मैंने प्रभारी पद से इस्तीफा दिया: संजय सिंह पंजाब में 18 IPS और 11 PPS अफसरों के तबादले एसबीआई का फिरोजपुर के सांसद घुबाया को नोटिस -60 दिन में 8.77 करोड़ का कर्ज चुकाया तो प्रॉपर्टी होगी नीलाम पंजाब के केबनिट मंत्री नवजोत सिंह सिद्दू ने किसानों की तत्काल मदद के लिये 24 लाख रुपये अपनी जेब से देने का किया ऐलान, अमृतसर के राजासांसी एरिया में शार्ट सर्किट से 300 एकड़ गेंहू की फसल हुई थी जलकर राख लाठीचार्ज के बाद पथराव हुआ तो भागी पुलिस, फैक्ट्रियों में छुपकर बचाई जान CBI ने रिश्वत लेने के मामले में फिरोजपुर पंजाब के डेप्युटी कमांडर वर्क्स इंजिनियर को गिरफ्तार किया पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार ने 70 डीएसपी का किया तबादला Time for Punjab to go in for a nuclear plant: IIM-A PUNJAB-रोडवेज को नौ वर्षो में लगी 370 करोड़ की चपत पंजाब में 5 रुपये प्रति यूनिट मिलेगी बिजली
लोकप्रिय ख़बरें
Visitor's Counter :   0032074841
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved. Website Designed by mozart Infotech