पंजाब समाचार

अकाली सरकार के बनाए कमीशन की नजर में कोई दोषी नहीं, एजी की राय-नया कमीशन बनाया जाए

April 10, 2017 05:36 AM

courstey  DAINIKBHASKAR  APRIL10

अकाली सरकार के बनाए कमीशन की नजर में कोई दोषी नहीं, एजी की राय-नया कमीशन बनाया जाए
भास्कर: इतना बड़ा कांड और आपकी रिपोर्ट में कोई दोषी नहीं? जस्टिस जोरा: घटनाएं सामूहिक थीं, व्यक्ति विशेष ने नहीं की
बात
सीधी
बेअदबी की जांच भी बेअदबी से... कैप्टन के कानूनी जनरल ने जस्टिस जोरा की रिपोर्ट को किया खारिज
हरीश मानव | चंडीगढ़


पंजाबकेनए एडवोकेट जनरल अतुल नंदा का मानना है कि श्री गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटनाओं की जांच ही बड़ी 'बेअदबी' से हुई है। इसलिए पूरी जांच नए सिरे से होनी चाहिए, जिसके लिए नया कमीशन बनना चाहिए। नंदा ने अकाली-भाजपा सरकार द्वारा गठित जस्टिस जोरा कमीशन की जांच में खामियां निकालते हुए कैप्टन सरकार को राय दी है कि इसके आधार पर कार्रवाई की जाए, क्योंकि यह वेग है। एजी ने लिखा है कि जस्टिस जोरा कमीशन की रिपोर्ट भी कहती है कि बेअदबी और इसके खिलाफ उठे विरोध को कुचलने के लिए सरकार-पुलिस ने सही तरीके से काम नहीं किया। साथ ही किसी को दोषी भी नहीं बताया गया है। ये तो माना है कि इन घटनाओं के पीछे कुछ बड़े लोग हैं, लेकिन उनके नाम नहीं बताए गए। कमीशन ने रिपोर्ट में सिर्फ यह कहकर बात खत्म कर दी कि बहबलकलां में पुलिस फायरिंग सेल्फ डिफेंस में नहीं, अनवारेंटेड थी। रिपोर्ट में 'पुलिस फायरिंग', 'कुछ पुिलस अफसर' जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया गया है, पर यह साफ नहीं किया गया है कि कौन सा अफसर, कौन-कौन से पुिलसकर्मी। इसलिए जांच ही नए सिरे से होनी चाहिए। बेअदबी की घटनाओं पर कार्रवाई के लिए कैप्टन सरकार ने ही एजी से राय मांगी थी कि आगे क्या होना चाहिए। -शेष पेज3 पर
जस्टिस जोरा सिंह
{नए एजी ने आपकी रिपोर्ट को वेग बताते हुए खारिज कर दिया है। आपका क्या कहना है?
-मेरीऑब्जर्वेशन बिल्कुल सही है। नई सरकार के नए एजी कुछ भी कर सकते हैं।
{एजीने आपकी रिपोर्ट पर सवाल उठाते हुए कहा है कि बरगाड़ी कांड में किसी को दोषी नहीं ठहराया गया। फायरिंग करने वाले अफसरों-कर्मियों के नाम तक नहीं लिखे गए?
-मामलाबेहद संवेदनशील है। इसलिए कोई सनसनी नहीं फैलाई गई। ये व्यक्ति विशेष द्वारा की गई घटना नहीं, बल्कि सामूहिक घटानाएं हैं।
{फरीदकोटके गांव बुर्ज जवाहरसिंहवाला के गुरुद्वारे से बीड़ चोरी की घटना में शामिल लोगों के स्कैच गवाहों से बात किए बगैर ही बना दिए गए। इतनी बड़ी लापरवाही कैसे हो गई?
-मुझेयाद नहीं कि क्या हुआ था।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब समाचार ख़बरें
‘Thrashed’ by teacher, Class I student dies पंजाब: मोहाली में वरिष्ठ पत्रकार केजे सिंह और उनकी मां की हत्या In a first, Rs 30cr benami property attached in Punjab कांग्रेस के सुनील जाखड़ ने गुरदासपुर लोकसभा उपचुनाव के लिए दाखिल किया नामांकन लुधियाना: फौजी कॉलोनी में एक 1.5 साल के बच्चे की मौत के बाद स्थानीय लोग विरोध करने बैठे। बच्चे के परिवार का आरोप है कि उसकी मौत पोलियो वैक्सीनेशन की वजह से हुई है। पठानकोट: AAP उम्मीदवार के सिक्योरिटी गार्ड ने की फायरिंग पंजाब: बीएसएफ ने अमृतसर के नजदीक घुसपैठ रोकी, 2 पाक घुसपैठिये ढेर पंजाब: नाभा जेल ब्रेक मामले में गुरजीत सिंह लड्डा राजपुरा से गिरफ्तार पंजाब: खन्ना से 68 लाख की पुरानी करेंसी के साथ 4 गिरफ्तार पंजाब: फिरोजपुर में एसटीएफ ने 3 लोगों को 2.5 किलो हेरोइन के साथ पकड़ा
लोकप्रिय ख़बरें
Visitor's Counter :   0035737682
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved. Website Designed by mozart Infotech