हरियाणा सरकार ने प्रदेश के लोगों को बेहतरीन चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से कई अहम निर्णय लिए उत्कृष्टï खिलाडिय़ों को वर्ग-एक और दो के पदों के लिए भी 3 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा:विजधनखड़ ने कहा सरकार का हर कदम किसानों के हित में ही उठेगाखट्टर सरकार ने बीएस संधू को हरियाणा पुलिस का नया महानिदेशक नियुक्त किया, पुलिस महकमे में भारी फेरबदल के चलते केपी सिंह डीजीपी जेल और चार अन्य आईपीएस को किया इधर से उधरअरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश, कई स्थानों पर भूस्खलनराजस्थान के उदयपुर में रहने वाले कल्पित वीरवल ने जेईई मेन एग्जाम में टॉप कियाकुपवाड़ा हमले पर सेना का बयान: दो आतंकवादी मार गिराएकुपवाड़ा हमला: पुलिस के मुताबिक मुठभेड़ में गोली लगने से घायल हुए नागरिक ने दम तोड़ाघर पहुंचा विनोद खन्ना का पार्थ‍िव शरीर, थोड़ी देर में होगा अंतिम संस्कार10 साल पुराने डीजल वाहन बैन करने पर NGT ने फैसला सुरक्षित रखा
राष्ट्रीय

मोदी सरकार का बड़ा फैसला, संसद की मंजूरी के बिना कोई भी नई जाती ओबीसी में शामिल नहीं होगी

March 24, 2017 02:02 AM

नई दिल्ली : मोदी सरकार ने देश के अन्य पिछड़ा वर्ग में शामिल होकर आरक्षण की मांग करने वालों को करारा झटका दिया है। गुरुवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने यह फैसला किया है कि अब संसद की मंजूरी के बिना किसी भी नई जाति को पिछड़ा वर्ग में शामिल नहीं किया जा सकेगा। इसके साथ ही मंत्रिमंडल ने गुरुवार को राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग के स्थान पर एक नये आयोग के गठन की मंजूरी भी प्रदान किया है। इतना ही नहीं नहीं, सरकार पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने के लिए संविधान में संशोधन भी करेगी। अभी तक पिछड़ा वर्ग में नयी जातियों को शामिल करने का फैसला सरकार के स्तर पर कर लिया जाता रहा है। इस बीच अटकलें यह भी लगायी जा रही है कि सरकार ने इस तरह का बड़ा फैसला जाट आरक्षण की मांग करने वालों को हताश करने के लिए किया है। बताया यह भी जा रहा है कि सरकार की ओर यह कदम मुख्य दो वजहों के चलते उठाया गया है। पहली जाट आरक्षण और दूसरी वजह यह कि जाट नेताओं और हरियाणा सरकार के बीच हुई बातचीत में पिछड़ा वर्ग आयोग का नये सिरे से गठन करने की है। अटकलें लगायी जा रही हैं कि सरकार इस नये आयोग गठन कर उसे संवैधानिक दर्जा देगी, जबकि पिछले कानून को संसद से कानून पारित करके बनाया गया था। मौजूदा राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग वैधानिक संस्था है, जिसके तहत अबतक सरकार के स्तर पर ही ऐसे फैसले किये जाते रहे हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और राष्ट्रीय ख़बरें
अरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश, कई स्थानों पर भूस्खलन 9 साल का लंबा अन्याय झेला, हमारे खिलाफ कांग्रेस की साजिश थी- साध्वी प्रज्ञा कांग्रेस ने मुझे खत्म करने का पूरा षडयंत्र रचा- साध्वी प्रज्ञा जेल से बाहर आने के बाद साध्वी प्रज्ञा ने खुद को बताया निर्दोष अपराधियों को कानूनी तौर पर सजा दिलाऊंगी: साध्वी प्रज्ञा भगवा आतंकवाद शब्द कांग्रेस की देन: साध्वी प्रज्ञा आजाद भारत के इतिहास में शायद ही किसी स्त्री को इतना प्रताड़ित किया गया होगा: साध्वी प्रज्ञा विनोद खन्ना के निधन पर अरुण जेटली, वेंकैया नायडू, अशोक गहलोत ने दुख जताया ऑर्ट ऑफ लिविंग के श्री श्री रविशंकर को एनजीटी ने जारी किया अवमानना नोटिस लोकपाल नियुक्ति को लेकर आज फैसला सुनाएगा सुप्रीम कोर्ट
लोकप्रिय ख़बरें
Visitor's Counter :   0032074800
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved. Website Designed by mozart Infotech