हरियाणा सरकार ने प्रदेश के लोगों को बेहतरीन चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से कई अहम निर्णय लिए उत्कृष्टï खिलाडिय़ों को वर्ग-एक और दो के पदों के लिए भी 3 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा:विजधनखड़ ने कहा सरकार का हर कदम किसानों के हित में ही उठेगाखट्टर सरकार ने बीएस संधू को हरियाणा पुलिस का नया महानिदेशक नियुक्त किया, पुलिस महकमे में भारी फेरबदल के चलते केपी सिंह डीजीपी जेल और चार अन्य आईपीएस को किया इधर से उधरअरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश, कई स्थानों पर भूस्खलनराजस्थान के उदयपुर में रहने वाले कल्पित वीरवल ने जेईई मेन एग्जाम में टॉप कियाकुपवाड़ा हमले पर सेना का बयान: दो आतंकवादी मार गिराएकुपवाड़ा हमला: पुलिस के मुताबिक मुठभेड़ में गोली लगने से घायल हुए नागरिक ने दम तोड़ाघर पहुंचा विनोद खन्ना का पार्थ‍िव शरीर, थोड़ी देर में होगा अंतिम संस्कार10 साल पुराने डीजल वाहन बैन करने पर NGT ने फैसला सुरक्षित रखा
उत्तर प्रदेश समाचार

योगी के उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने से राम मंदिर के निर्माण का रास्ता होगा क्लीयर ?

March 18, 2017 09:28 PM

रमेश शर्मा:भाजपा हाईकमान द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद के लिए योगी आदित्यनाथ के नाम की घोषणा के बाद समूचे हिन्दू समाज में ख़ुशी की लहर सी दौड़ गई लगती है। लगभग दो दशक से भी अधिक समय से अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का इन्तजार कर रहे करोड़ों लोगों को लगने लगा है कि योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री के सिंहासन पर विराजमान होने के पश्चात अब राम मंदिर के निर्माण का रास्ता साफ हो जाएगा। कल 19 मार्च को देश के सबसे बड़े प्रदेश के मुख्यमंत्री के सिंहासन पर विराजमान होने वाले योगी आदित्यनाथ का जन्म 5 जून 1974 को उत्तराखंड के गढ़वाल में हुआ था। योगी का असली नाम अजय सिंह नेगी है और उन्होंने गढ़वाल विश्विद्यालय से गणित में बीएससी की है। 22 साल की उम्र में ही उन्होंने सांसारिक जीवन त्याग कर संन्यास ग्रहण कर लिया था। इसी के बाद इन्हें योगी आदित्यनाथ नाम दिया गया।15 फरवरी 1994 को नाथपंथ के विश्व प्रसिद्ध मठ श्री गोरक्षनाथ मंदिर गोरखपुर के गोरक्षपीठाधीश्वर महंत अवैद्यनाथ महाराज ने योगी आदित्यनाथ को अपना उत्तराधिकारी शिष्य घोषित कर उनका दीक्षाभिषेक कर दिया। 1998 में महन्त अवैद्यनाथ ने राजनीति से संन्यास की घोषणा कर दी और योगी आदित्यनाथ 12वीं लोकसभा के लिए सांसद चुने जाने पर सिर्फ 26 साल के सबसे कम उम्र के सांसद थे। वह लगातार पांच बार 1998, 1999, 2004, 2009 और 2014 में सांसद चुने गए हैं। 2014 में गोखनाथ मंदिर के महंत अवैद्यनाथ के निधन के बाद वे यहां के महंत यानी पीठाधीश्वर चुन लिए गए। हिंदुत्व एजेंडे की राजनीति करने वाले योगी के बारे में गोरखपुर में उनके समर्थक अक्सर नारा लगाते हैं कि गोरखपुर में रहना है तो योगी-योगी कहना होगा।योगी ने ही हिंदू युवा वाहिनी का गठन किया और पूर्वांचल के इलाके में धर्म परिवर्तन के खिलाफ मुहिम छेड़ दी। हिंदुत्व की राह पर चलते हुए उन्होंने कई बार विवादित बयान दिए। 2007 में गोरखपुर में दंगे हुए तो योगी आदित्यनाथ को मुख्य आरोपी भी बनाया गया। योगी की गिरफ्तारी भी हुई और इस पर काफी हंगामा भी हुआ। योगी आदित्यनाथ के फैसलों पर अक्सर विवाद होता रहा है। बीते दिनों उन्होंने गोरखपुर के कई ऐतिहासिक मुहल्लों के नाम बदलवा दिए। इसके तहत उर्दू बाजार हिंदी बाजार बन गया और अली नगर आर्यनगर हो गया इसके अलावा मियां बाजार भी माया बाजार हो गया है। योगी की धर्म निष्ठा, निडर और दबंग छवि के मद्देनजर सोशल मीडिया और अफसरशाही में अभी से विभिन्न प्रकार की चर्चाओं का बाजार गर्म होने लगा है । राजनीतिक विशेषज्ञों का मानना है कि आने वाले दिनों में यूपी की राजनीति और प्रशासन में बहुत बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और उत्तर प्रदेश समाचार ख़बरें
कानपुर के रहने वाले थे कुपवाड़ा आतंकी हमले में शहीद हुए कैप्टन आयुष यादव सीतापुर में कपल ने कथित तौर पर जहर खाकर जान दी। पुलिस मौके पर पहुंची। SP नेता और पूर्व यूपी मंत्री गायत्री प्रजापति बेल पर रिहा, लखनऊ की POCSO कोर्ट ने सोमवार को दी थी बेल। प्रजापति पर रेप का आरोप। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में अंबेडकर जयंती के अवसर पर शोभायात्रा के दौरान हुई घटना के सिलसिले में दो और गिरफ्तार। उत्तरप्रदेश में सरकारी जमीन पर अवैध कब्जों को हटाने के लिए टास्कफोर्स का गठन किया जाएगा,योगी मन्त्रिमण्डल की चौथी बैठक में हुआ फ़ैसला गाजियाबाद: हरियाणा के व्यापारी से आंखों में मिर्च पाउडर डालकर 14 लाख की लूट, हरियाणा से गाजियाबाद आया था कारोबारी। उत्तर प्रदेश: मुरादाबाद में स्कूली छात्रों ने सुकमा नक्सली हमले में शहीद सीआरपीएफ जवानों को श्रद्धांजलि दी यूपी सरकार ने बुंदेलखंड में पेयजल के लिए बनाया कंट्रोल रूम, टोल फ्री नंबर किया जारी यूपी: निर्माण भवन में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने किया औचक निरीक्षण UP: परिवहन मंत्री ने आरटीओ कानपुर सुनीता सिंह को सस्पेंड किया। 18 अप्रैल को उनके घर पर पड़े छापे में 85 लाख कैश मिला था।
लोकप्रिय ख़बरें
Visitor's Counter :   0032074552
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved. Website Designed by mozart Infotech