हैदराबाद: तेलगू अभिनेता रवि तेजा के भाई भरत राज की सड़क हादसे में मौत छत्तीसगढ़: महासमुंद में कर्ज की वजह से किसान की आत्महत्याहॉकी वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल में कनाडा ने भारत को 3-2 से हरायाराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद लखनऊ पहुंचेब्रिटेन: न्यूकास्टल शहर में बेकाबू कार ने राहगीरों को रौंदा, 6 लोगों की मौतक्रिकेट: भारत और वेस्टइंडीज में दूसरा वनडे आज शाम 6:30 बजे सेचीन में योग कार्यक्रम में 10,000 लोगों ने हिस्सा लियाहरियाणा में स्वर्ण जंयती सांझी साईकिल योजना को अब गांव स्तर पर भी लागू किया जाएगाहरियाणा सरकार ने आज तुरंत प्रभाव से तीन एचसीएस अधिकारियों के स्थानांतरण एवं नियुक्ति आदेश जारी कियेगुजरात के वलसाड में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात
उत्तर प्रदेश समाचार

योगी के उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने से राम मंदिर के निर्माण का रास्ता होगा क्लीयर ?

March 18, 2017 09:28 PM

रमेश शर्मा:भाजपा हाईकमान द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद के लिए योगी आदित्यनाथ के नाम की घोषणा के बाद समूचे हिन्दू समाज में ख़ुशी की लहर सी दौड़ गई लगती है। लगभग दो दशक से भी अधिक समय से अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का इन्तजार कर रहे करोड़ों लोगों को लगने लगा है कि योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री के सिंहासन पर विराजमान होने के पश्चात अब राम मंदिर के निर्माण का रास्ता साफ हो जाएगा। कल 19 मार्च को देश के सबसे बड़े प्रदेश के मुख्यमंत्री के सिंहासन पर विराजमान होने वाले योगी आदित्यनाथ का जन्म 5 जून 1974 को उत्तराखंड के गढ़वाल में हुआ था। योगी का असली नाम अजय सिंह नेगी है और उन्होंने गढ़वाल विश्विद्यालय से गणित में बीएससी की है। 22 साल की उम्र में ही उन्होंने सांसारिक जीवन त्याग कर संन्यास ग्रहण कर लिया था। इसी के बाद इन्हें योगी आदित्यनाथ नाम दिया गया।15 फरवरी 1994 को नाथपंथ के विश्व प्रसिद्ध मठ श्री गोरक्षनाथ मंदिर गोरखपुर के गोरक्षपीठाधीश्वर महंत अवैद्यनाथ महाराज ने योगी आदित्यनाथ को अपना उत्तराधिकारी शिष्य घोषित कर उनका दीक्षाभिषेक कर दिया। 1998 में महन्त अवैद्यनाथ ने राजनीति से संन्यास की घोषणा कर दी और योगी आदित्यनाथ 12वीं लोकसभा के लिए सांसद चुने जाने पर सिर्फ 26 साल के सबसे कम उम्र के सांसद थे। वह लगातार पांच बार 1998, 1999, 2004, 2009 और 2014 में सांसद चुने गए हैं। 2014 में गोखनाथ मंदिर के महंत अवैद्यनाथ के निधन के बाद वे यहां के महंत यानी पीठाधीश्वर चुन लिए गए। हिंदुत्व एजेंडे की राजनीति करने वाले योगी के बारे में गोरखपुर में उनके समर्थक अक्सर नारा लगाते हैं कि गोरखपुर में रहना है तो योगी-योगी कहना होगा।योगी ने ही हिंदू युवा वाहिनी का गठन किया और पूर्वांचल के इलाके में धर्म परिवर्तन के खिलाफ मुहिम छेड़ दी। हिंदुत्व की राह पर चलते हुए उन्होंने कई बार विवादित बयान दिए। 2007 में गोरखपुर में दंगे हुए तो योगी आदित्यनाथ को मुख्य आरोपी भी बनाया गया। योगी की गिरफ्तारी भी हुई और इस पर काफी हंगामा भी हुआ। योगी आदित्यनाथ के फैसलों पर अक्सर विवाद होता रहा है। बीते दिनों उन्होंने गोरखपुर के कई ऐतिहासिक मुहल्लों के नाम बदलवा दिए। इसके तहत उर्दू बाजार हिंदी बाजार बन गया और अली नगर आर्यनगर हो गया इसके अलावा मियां बाजार भी माया बाजार हो गया है। योगी की धर्म निष्ठा, निडर और दबंग छवि के मद्देनजर सोशल मीडिया और अफसरशाही में अभी से विभिन्न प्रकार की चर्चाओं का बाजार गर्म होने लगा है । राजनीतिक विशेषज्ञों का मानना है कि आने वाले दिनों में यूपी की राजनीति और प्रशासन में बहुत बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और उत्तर प्रदेश समाचार ख़बरें
UP: लखनऊ के हजरतगंज स्थित एक पार्क में भगवान बुद्ध की मूर्ति क्षतिग्रस्त किए जाने के बाद स्थानीय नागरिकों ने विरोध प्रदर्शन किया। राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद लखनऊ पहुंचे बीजापुर जिले के आवापल्ली थाना क्षेत्र में रविवार सुबह नक्सलियों से हुई मुठभेड़ में एक एसआई अरुणेश मरकाम जख्मी हो गए हैं। उनके पैर में गोली लगी है। UP: CM योगी आदित्यनाथ ने श्रीनगर में CRPF की टुकड़ी पर हुए आतंकी हमले में जवानों के शहीद हो जाने पर शोक प्रकट किया और उनकी आत्मा की शांति की कामना की। लखनऊः ऑटो रिक्शा में 19 साल की लड़की से छेड़छाड़ के बाद सड़क पर फेंकने का आरोपी गिरफ्तार। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जेवर हवाईअड्डे के पहले चरण को मंजूरी दे दी गई :अशोक गजपति राजू अगले दो घंटे में अलवर और आस-पास के इलाकों में बारिश होने की संभावना UP: 1.035 लैंड माफियाओं की पहचान की गई है, 42 पर गैंगस्टर ऐक्ट लगाया गया है, 70 पर आपराधिक मामले दर्ज हुए हैंः दिनेश शर्मा महिला सुरक्षा के लिए 181 वैन और कन्या भ्रूण हत्या को रोकने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुखबिर योजना लॉन्च की। यूपीः महिला हेल्पलाइन 181 जो पहले 11 जनपदों में काम करती थी, अब 75 में काम करेगीः सीएम योगी आदित्यनाथ
लोकप्रिय ख़बरें
Visitor's Counter :   0033354652
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved. Website Designed by mozart Infotech