हरियाणा सरकार ने प्रदेश के लोगों को बेहतरीन चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से कई अहम निर्णय लिए उत्कृष्टï खिलाडिय़ों को वर्ग-एक और दो के पदों के लिए भी 3 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा:विजधनखड़ ने कहा सरकार का हर कदम किसानों के हित में ही उठेगाखट्टर सरकार ने बीएस संधू को हरियाणा पुलिस का नया महानिदेशक नियुक्त किया, पुलिस महकमे में भारी फेरबदल के चलते केपी सिंह डीजीपी जेल और चार अन्य आईपीएस को किया इधर से उधरअरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश, कई स्थानों पर भूस्खलनराजस्थान के उदयपुर में रहने वाले कल्पित वीरवल ने जेईई मेन एग्जाम में टॉप कियाकुपवाड़ा हमले पर सेना का बयान: दो आतंकवादी मार गिराएकुपवाड़ा हमला: पुलिस के मुताबिक मुठभेड़ में गोली लगने से घायल हुए नागरिक ने दम तोड़ाघर पहुंचा विनोद खन्ना का पार्थ‍िव शरीर, थोड़ी देर में होगा अंतिम संस्कार10 साल पुराने डीजल वाहन बैन करने पर NGT ने फैसला सुरक्षित रखा
हरियाणा

घग्गर नदी के पानी को ऐलनाबाद क्षेत्र में पहुंचाने के लिए एक विशेष कमेटी बनाई जाएगी :

October 16, 2016 08:12 PM

चंडीगढ़- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र में वर्षों पुरानी पानी की मांग को पूरा करने के लिए घग्गर नदी के पानी को ऐलनाबाद क्षेत्र में पहुंचाने के लिए एक विशेष कमेटी बनाई जाएगी जो क्षेत्र में आवश्यकता के अनुसार नहरें, नाले व ड्रेन आदि के निर्माण की योजना बनाएगी। उन्होंने कहा कि सरस्वती नदी के पानी को भी घग्गर के माध्यम से यहां तक पहुंचाया जाएगा। 

  मुख्यमंत्री ने ये घोषणा आज ऐलनाबाद में आयोजित विकास रैली में अपने संबोधन  में की। इस मौके पर उन्होंने ऐलनाबाद के लिए 125  करोड़ रुपयों के विकास कार्यों की घोषणाएं की। उन्होंने जिला सिरसा में 3.22 करोड़ की दो विकास परियोजनाओं का उद्घाटन व ऐलनाबाद में 5 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले भूमिगत रेलवे मार्ग का शिलान्यास भी किया। उन्होंने कहा कि आगामी एक नवंबर से प्रदेश के सभी राशन कार्ड ऑनलाइन कर दिए जाएंगे और इन्हें बायो-मिट्रिक प्रणाली से जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि हम जो कहेंगे वही करेंगे और जो करेंगे वहीं बताएंगे। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में घग्गर का पानी लाने की मांग विधानसभा चुनाव से लंबित पड़ी है और इस मामले में सरकार गंभीरता से काम कर रही है। उन्होंने लोगों को वाल्मीकि जयंती, शरद पूर्णिमा व बंदा वीर बैरागी जयंती की शुभकामनाएं दीं। रैली के संयोजक एचएसडीसी के चेयरमैन पवन बेनीवाल ने क्षेत्रवासियों की ओर से पगड़ी पहनाकर मुख्यमंत्री का अभिनंदन किया।
मुख्यमंत्री ने रैली संयोजक चेयरमैन पवन बेनीवाल द्वारा प्रस्तुत की गई सभी मांगों को स्वीकार करते हुए लगभग 125 करोड़ रुपयों के विकास कार्यों की घोषणाएं की। उन्होंने ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में विकास कार्यों के लिए 15-15 करोड़ रुपये अलग से देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने ऐलनाबाद की अनाज मंडी का विस्तार, 34.5 करोड़ रुपय की लागत से जमाल डिस्ट्रीब्यूटरी का पुनर्निर्माण, 63 लाख रुपये की लागत से 4 खालों का निर्माण, नाथुसरी चौपटा सहित कई गांवों में वाटर वक्र्स बनवाने, मल्लेकां बस स्टैंड का निर्माण, जिला में किसी एक स्थान पर सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट, नाथुसरी चौपटा व दड़बा कलां में पीएचसी को सीएचसी बनाने, जमाल में नई पीएचसी खोलने, माधोसिंघाना गांव की पीएचसी की नई इमारत बनवाने, 10 गांवों में योग एवं व्यायामशालाएं बनाने, विभिन्न गांवों में खंड स्तरीय स्टेडियमों का निर्माण करवाने, बिजली व्यवस्था में सुधार के लिए नए सब स्टेशन बनाने, गांव नीमला में बीसी चौपाल बनाने, कागदाना से जोगीवाला तक 6 करोड़ रुपये से नई सडक़ बनाने, नंदीशाला निर्माण, स्कूल अपग्रेड, पंपिंग स्टेशन, आंगनवाड़ी केंद्र खोलने की अनेक मांगों को स्वीकृति दी।
उन्होंने कहा कि प्रदेश के विकास के लिए सरकार के पास पैसे की कमी नहीं है। इस साल प्रदेश के बजट में 28 प्रतिशत की ऐतिहासिक बढ़ोतरी की गई है। पिछले वर्ष जहां प्रदेश का बजट 69 हजार करोड़ रुपये था वहीं इस वर्ष इसे बढ़ाकर 88 हजार करोड़ किया गया है। उन्होंने कहा कि यह पैसा वही है जो पहले नेताओं और बिचौलियों द्वारा हड़प लिया जाता था। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों में भ्रष्टाचार अपने चरम पर था। यहां तक कि एक पूर्व प्रधानमंत्री को यह कहना पड़ा कि केंद्र से भेजे जाने वाले 1 रुपये में से केवल 15 पैसे ही नीचे तक पहुंचते हैं। उन्होंने कहा कि यदि आज वे प्रधानमंंत्री जीवित होते तो मैं उनसे पूछता कि जब केंद्र व प्रदेश में दोनों जगह आपकी सरकार है तो फिर बीच के 85 पैसे आखिर जा कहां रहे हैं। उन्होंने दावे के साथ कहा कि आज केंद्र व प्रदेश सरकार की भ्रष्टाचार विरोधी नीतियों के कारण रुपये में से 85 पैसे नीचे तक पहुंच रहे हैं। शेष 15 पैसे भी जनता तक पहुंचाने के लिए सरकार द्वारा विशेष व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने भ्रष्टाचार को समाज का कैंसर बताते हुए आमजन से इसे खत्म करने में सरकार का सहयोग करने का आह्वान किया। 
उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार को समाप्त करने के लिए सरकार इंटरनेट व ऑनलाइन सेवाओं का सहारा ले रही है। हर सरकारी सेवा को आधार कार्ड से जोड़ा जा रहा है ताकि बिचौलियों का नेटवर्क तोड़ा जा सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 95 प्रतिशत लोगों के आधार कार्ड बन चुके हैं और शेष 5 प्रतिशत नागरिक भी अपने आधार कार्ड बनवा लें, क्योंकि भविष्य में सभी प्रकार की सरकारी सेवाएं आधार कार्ड आधारित होने जा रही हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने 5 लाख ऐसे फर्जी राशन कार्ड रद्द किए हैं जिनके माध्यम से राशन पर मिलने वाला मिट्टी तेल हड़पा जा रहा था। इससे प्रदेश सरकार को 101 करोड़ रुपये की बचत हुई है। इसी प्रकार प्रदेश में 2 लाख ऐसे पेंशनधारक पाए गए हैं जिनकी मृत्यु होने के बावजूद उनकी पेंशन हड़पी जा रही थी। उन्होंने कहा कि गड़बड़ी करने वाले ऐसे बिचौलियों का नेटवर्क तोडऩे के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। इसीलिए ग्राम स्तर तक ब्राडबैंड की सुविधा मुहैया करवाने के प्रयास किए जा रहे हैं। अब तक प्रदेश के 6500 में से 2500 गांवों तक ब्रॉडबैंड सुविधा पहुंचाई जा चुकी है। उन्होंने कहा कि गांवों में ग्राम सचिवालय खोले जा रहे हैं जहां सरपंच, पटवारी, नंबरदार, ग्राम सचिव व अन्य कर्मचारी लोगों को एक ही स्थान पर मिल सकें। ग्राम सचिवालय में कॉमन सर्विस सेंटर भी खोले जा रहे हैं जहां लोगों के सभी प्रकार के प्रमाण पत्र बन सकेंगे। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने लोगों की समस्याओं के निदान के लिए सीएम विंडो सुविधा शुरू की है। इसे जिला स्तर से अब उपमंडल व फिर खंड स्तर तक ले जाने की योजना है। इसके माध्यम से शिकायत देने के 3 दिन के भीतर समस्या का समाधान किया जा रहा है। उन्होंने लोगों को विश्वास दिलाया कि भाजपा द्वारा चुनाव पूर्व किए गए प्रत्येक वादे को अमलीजामा पहनाया जाएगा और प्रदेश की 2.5 करोड़ जनता को स्वच्छ, पारदर्शी व भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्था प्रदान की जाएगी। उन्होंने दोहराया कि केंद्र की ढाई व प्रदेश सरकार के दो साल के कार्यकाल के दौरान भाजपा के किसी भी मंत्री या नेता पर भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं है जबकि पिछली सरकारों में हर हफ्ते घोटाले व घपले उजागर होते थे। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों में भ्रष्टाचार व अव्यवस्था के कारण परियोजनाएं बीच में रुक जाती थी। हमने सरकार बनने के बाद सभी रुकी हुई परियोजनाओं पर तेज गति से काम शुरू करवाया और आज वे कम बजट और निर्धारित समय में पूरी करवाई जा रही हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वे अब तक प्रदेश के 78 विधानसभा क्षेत्रों में विकास रैलियां कर चुके हैं ताकि स्थानीय समस्याओं का निदान और प्रदेश के सभी क्षेत्रों का समान विकास हो। उन्होंने बताया कि वे 2000 से अधिक घोषणाएं कर चुके हैं जिनमें से 1200 घोषणाएं या तो पूरी हो चुकी हैं या उन पर कार्य चल रहा है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष हरियाणा अपनी स्थापना के 50 वर्ष पूरे कर रहा है। इसके उपलक्ष्य में एक नवंबर 2016 से 31 अक्टूबर 2017 तक प्रदेश में स्वर्ण जयंती वर्ष के रूप में अनेक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे जिनमें प्रदेश के हर व्यक्ति को सहभागी बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि अंत्योदय के जनक पंडित दीनदयाल उपाध्याय के सिद्धांतों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए उनकी जयंती को गरीब कल्याण वर्ष के रूप में मनाया जाएगा। 
उन्होंने कहा कि सरकार अपनी स्थापना के तीसरे वर्ष में रोजगार को प्राथमिकता देगी। प्रदेश के 5 लाख युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाने के लिए नए उद्योगों की स्थापना करवाई जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी क्षेत्रों में उद्योग लगाने के लिए उद्यमियों को विशेष रियायतें दी जा रही हैं। पिछले दिनों गुडग़ांव में 3000 हजार उद्योगपतियों के सम्मेलन में 400 एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए जिनके माध्यम से प्रदेश में 6 लाख करोड़ रुपये के निवेश का मार्ग प्रशस्त हुआ है, इससे प्रदेश के लाखों युवाओं को रोजगार मिलेगा।
रैली संयोजक चेयरमैन पवन बेनीवाल ने कहा कि यह क्षेत्र कभी चौटाला का गढ़ माना जाता था लेकिन आज कार्यकर्ताओं की मेहनत के कारण यहां कमल खिल गया है। उन्होंने कहा कि यहां की दोनों ब्लॉक समितियों व नगर पालिका में भाजपा ने भारी जीत दर्ज की है। उन्होंने मुख्यमंत्री से क्षेत्र में मेडिकल कॉलेज व पानी की वर्षों पुरानी मांगों को पूरा करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों में नौकरियां बिकती थीं और बड़े पद तो केवल प्रभावशाली या पैसे वाले लोगों को ही मिलते थे लेकिन वर्तमान सरकार में प्रशासनिक सेवा तक की नौकरियों में गरीब परिवारों के प्रतिभाशाली बच्चों का चयन करके प्रदेश सरकार ने पारदर्शी शासन का प्रमाण दिया है। उन्होंने सेना द्वारा पाकिस्तान में जाकर सर्जिकल स्ट्राइक करने का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देते हुए इसे देशवासियों का गौरव बढ़ाने वाला कदम बताया। इसके लिए उन्होंने सैनिकों व प्रधानमंत्री को सलाम किया।
मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार जगदीश चौपड़ा ने कहा कि विधानसभा स्तर पर मुख्यमंत्री केवल चुनाव के समय वोट लेने के लिए ही आते थे। लेकिन वर्तमान मुख्यमंत्री विकास के लिए विधानसभाओं में जाकर लोगों को विकास कार्यों की सौगातें दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश के इतिहास में पहली बार केंद्र व प्रदेश में ईमानदार नेतृत्व जनता को मिला है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री मनोहर लाल उसी प्रकार मातृभूमि की सेवा कर रहे हैं जिस प्रकार संतान अपने मां-बाप की सेवा करती है। विकास रैली को श्री अमीर चंद मेहता, श्री आदित्य चौटाला, डॉ. वेद बेनीवाल, श्री मनीराम केहरवाल व श्री शीशराम कंबोज सहित अनेक नेताओं ने संबोधित किया।  
इस अवसर पर हरियाणा महिला विकास निगम की अध्यक्षा श्रीमती रेणु शर्मा, हरियाणा माटी कला बोर्ड के अध्यक्ष श्री गुरदेव सिंह राही, हरियाणा अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम के सदस्य श्री रत्नलाल बामणिया, जिलाध्यक्ष भाजपा श्री यतिन्द्र सिंह एडवोकेट, पूर्व जिलाध्यक्ष श्री अमीर चंद मेहता, पूर्व विधायक श्री मनीराम केहरवाला, वरिष्ठ भाजपा नेता डा. वेद बेनीवाल सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हरियाणा ख़बरें
मनोहर लाल ने स्कूल शिक्षा विभाग को नई अपग्रेडेशन नीति के तहत जिला नूंह और जिला पंचकूला के मोरनी में विद्यालयों को प्राथमिकता के आधार पर अपग्रेड करने के निर्देश दिए हरियाणा में चालू रबी खरीद मौसम के लिए गेहूं के 75 लाख मीट्रिक टन के निर्धारित खरीद लक्ष्य की तुलना में 66.48 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं की खरीद करके 88.64 प्रतिशत लक्ष्य पूरा कर लिया गया राज्य सरकार ने अपने विभागों, बोर्डों और निगमों में उच्च जोखिम के कार्यों की पहचान करने और ऐसे प्रत्येक कार्य के पदाधिकारियों के लिए बीमा तथा अन्य विशेष योजनाएं तथा जोखिम भत्ते के लिए अपनी सिफारिशें देने हेतु एक कमेटी गठित की:कैप्टन अभिमन्यु सृष्टिï के आदि वास्तुकार भगवान विश्वकर्मा दिवस के अवसर पर प्रदेश की लगभग 60 हजार पंजीकृत महिला श्रमिकों को सिलाई मशीन बांटी जाएगी:नायब सिंह सैनी हरियाणा सरकार ने प्रदेश के लोगों को बेहतरीन चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से कई अहम निर्णय लिए हरियाणा सरकार ने वर्ष 2017-18 के दौरान प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजलापूर्ति तथा शहरी क्षेत्रों में सीवरेज व बरसाती पानी की निकासी प्रणाली में सुधार हेतु 1121 नई योजनाओं पर लगभग 738.12 करोड़ रुपये की राशि खर्च करने का निर्णय लिया राज्य मलेरिया उन्मुलन कार्यक्रम के तहत प्रदेश को वर्ष 2022 तक मलेरिया मुक्त किया जाएगा: विज उत्कृष्टï खिलाडिय़ों को वर्ग-एक और दो के पदों के लिए भी 3 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा:विज प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत बीमित किसानों को न केवल प्राकृतिक आपदा की बजह से खराब हुई फसल के लिए मुआवजा दिया जाता है:मनोहर लाल वर्तमान समय की आवश्यकता को देखते हुए समाज में बेटियों के प्रति अपना दृष्टिïकोण बदलने के लिए जागरूकता लानी होगी:कविता जैन
लोकप्रिय ख़बरें
Visitor's Counter :   0032074721
Copyright © 2016 AAR ESS Media, All rights reserved. Website Designed by mozart Infotech