Friday, October 18, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
अगले दो घंटे में दिल्ली, भिवाड़ी, रोहतक और आस-पास के इलाकों में बारिश की संभावनाफ़िल्म "इत्तेफाक" 25 अक्टूबर 2019 को चीन में होगी रिलीज़हरियाणा में सरकार जब विकास कार्य में जुटी थी, तब विपक्ष क्या कर रहा था: पीएम मोदीदिल्लीः कोर्ट ने विधानसभा स्पीकर रामनिवास गोयल को 6 महीने की सजा सुनाईभारत के चुनाव आयोग ने हरियाणा चुनावों के दौरान पर्यवेक्षकों के प्रदर्शन की समीक्षा के बाद अंबाला के व्यय पर्यवेक्षक (EO) को हटा दियालखनऊ: हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्यादिल्ली: बीएसईएस कर्मचारी को अज्ञात हमलावरों ने घोंपा चाकू, हालत गंभीरअगले 2 घंटों में हरियाणा के कई इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश का अनुमान
मेवात
ए.एन.एम., जी.एन.एम. एवं डी.एम.एल.टी. कोर्स करने पर चालू वित्त वर्ष के दौरान ट्यूशन फीस एवं होस्टल फीस का 75 प्रतिशत आर्थिक अनुदान दिया जाएगा।

मेवात:हरियाणा में मेवात विकास अभिकरण, नूंह की ओर से मेवात क्षेत्र के बी.पी.एल. श्रेणी, पिछड़ी जाति एवं अनुसूचित जाति की पात्र लड़कियों एवं लडक़ों को हरियाणा से बाहर किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से पैरा-मेडिकल कोर्स जैसे ए.एन.एम., जी.एन.एम. एवं डी.एम.एल.टी. कोर्स करने पर चालू वित्त वर्ष के दौरान ट्यूशन फीस एवं होस्टल फीस का 75 प्रतिशत आर्थिक अनुदान दिया जाएगा।

श्री गणेशाय नम: भगवान परशुराम ने समाज में एकता स्थापित करने का दिया संदेश

नूंह, धनेश विद्यार्थी : शहर के राम मंदिर में बुधवार को भगवान भगवान परशुराम जयंती मनाने के लिए एक कार्यक्रम आयोजित किया गया।, जिसमें अधिकांश वक्ताओं ने समाज को एकसूत्र में पिरोने की बात कही। भगवान परशुराम ब्राह्मण महासभा की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम के अध्यक्ष इनेलो के नूंह हलकाध्यक्ष पंडित योगेश शर्मा ने कहा कि भगवान परशुराम साक्षात भगवान शंकर के अवतार माने जाते हैं, जिन्होंने इस धरती को कई बार धर्म की रक्षा के लिए दुष्टों का संहार किया। शर्मा ने कहा कि वे एक महान पितृभक्त थे। उन्होंने कार्यक्रम आयोजकों का आभार जताते हुए समय-2 पर ऐसे आयोजन किए जाने पर बल दिया।

पिछले 5 सालो से स्कूल मे हो रही ढांदली का हुआ भंडाफोड़

खंड नूह के गाँव उदाका के सरकारी स्कूल मे प्राइमरी की मुख्य अध्यापिका के द्वारा काफी समय से स्कूल मे चल रही सरकारी योजनाओ मे हेरा फेरि करने का ग्रामीणो को काफी समय से संदेशा लग रहा था। लेकिन